उत्तर प्रदेश की अब तक की 10 बड़ी खबरें, जो बनीं अखबारों की सुर्खियां

आज के अखबारों में छपी 10 बड़ी खबरें, यहां पढ़ें कहां क्या हुआ...

लखनऊ. रविवार, 22 मार्च, 2020 को राजधानी लखनऊ से प्रकाशित विभिन्न समाचार-पत्रों में यह अहम सुर्खियां छाई हुई हैं।

आज जनता कर्फ्यू

कोरोना से लड़ाई के खिलाफ रविवार को जनता कर्फ्यू रहेगा। प्रधानमंत्री ने देशवासियों से सुबह सात से रात नौ बजे तक घरों से न निकलने की अपील की है। सड़क, रेल, मेट्रो परिवहन और बाजार बंद रहेंगे। महालांकि, दवा, डेयरी और सामान्य जरूरतों की दुकानें खुली रहेंगी। लखनऊ, मुंबई, पुणे समेत कई शहरों में पहले से कामबंदी की गई है।

बड़ी राहत: 35 लाख मजदूरों को भत्ता

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि सरकार तत्काल प्रभाव से 35 लाख मजदूरों को भरण-पोषण के लिए प्रति व्यक्ति 1000 रुपये देगी। यह भुगतान डीबीटी के माध्यम से सीधे अकाउंट में भेजा जाएगा। उन्होंने मनरेगा मजदूरों को तुरंत भुगतान देने का ऐलान किया है। उन्होंने 1.65 करोड़ से ज्यादा अन्त्योदय योजना, मनरेगा और श्रम विभाग में पंजीकृत निर्माण श्रमिक व दिहाड़ी मजदूरों को अप्रैल में एक माह का मुफ्त राशन दिए जाने के निर्देश दिए हैं।

जनता कर्फ्यू में लोग घरों में ही रहें : योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के लोगों से अपील की है कि रविवार को जनता कफ्र्यू के दौरान घर में ही रहें, इमरजेंसी हो तभी बाहर निकलें। उन्होंने कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है सरकार के दवाएं और खाद्यान्न पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं। किसी भी जरूरी सामान की किल्लत बाजार में नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने अधिकारियों को जमाखोरी करने वाले व्यापारियों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए।

तीन नए मामले सामने आए, 41 संदिग्ध भर्ती

प्रदेश में शनिवार को कोरोना पॉजिटिव के तीन नए मामले सामने आए हैं। इनमें दो नोएडा और एक मुरादाबाद में संक्रमित पाए गए हैं। स्वास्थ्य महानिदेशालय की बुलेटिन में बताया गया है कि अब प्रदेश में 26 कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। इनमें आगरा और लखनऊ के आठ-आठ, नोएडा के छह, गाजियाबाद के दो और लखीमपुर व मुरादाबाद के एक-एक मामले हैं। इनमें से आगरा के सात, गाजियाबाद के एक और नोएडा के एक मरीज के ठीक होने पर अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। शनिवार को कोरोना वायरस के संदिग्ध 41 यात्रियों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती किया गया है।

संदिग्धों को बलपूर्वक भर्ती कराया जाएगा

प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस (कोविड-19) को खतरनाक महामारी मानते हुए महामारी कोविड-19 विनियमावली 2020 लागू की है। इसके तहत यदि किसी व्यक्ति में लक्षण पाए जाएं तो अस्पताल में निर्धारित प्रोटोकाल के अनुसार आइसोलेट कर उसका कोरोना वायरस का परीक्षण किया जाए। इसकी सूचना सीएमओ कार्यालय को देना चाहिए। प्राधिकृत अधिकारी उसे बलपूर्वक भर्ती करने व आइसोलेट रखने के लिए अधिकृत हैं।

लोकभवन में कोरोना कंट्रोल रूम बनाया गया

कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए प्रदेश के गृह विभाग ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। शनिवार को विभाग ने लोक भवन में कोरोना कंट्रोल रूम स्थापित कर दिया। इसमें गृह, पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी 24 घंटे मौजूद रहेंगे। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने सभी जिलों में कारोना से बचाव के लिए किए गए उपायों के बारे में जिलाधिकारियों से रिपोर्ट भी मांगी है। कोरोना कंट्रोल रूम में गृह विभाग के विशेष सचिव स्तर के, पुलिस विभाग के एसपी स्तर के और स्वास्थ्य विभाग से सीमएओ स्तर के एक अधिकारी हमेशा मौजूद रहेंगे।

सतर्कता: अयोध्या में प्रवेश पर दो अप्रैल तक प्रतिबंध

मुख्यमंत्री के निर्देश पर संतों और धर्माचार्यों से बातचीत के बाद जिला प्रशासन ने शनिवार को रामनगरी में बाहरी लोगों के प्रवेश पर 2 अप्रैल तक रोक लगाने का आदेश दिया। जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने शनिवार को बताया कि अयोध्या में सरयू नदी सहित सभी कुण्डों व सरोवरों में सामूहिक स्नान पर भी रोक लगा दी गयी है। अयोध्या जनपद के बार्डर पर रोक कर श्रद्धालुओं को वापस उनके स्थलों पर भेज दिया जायेगा।

हाईकोर्ट 25, जिला अदालतें 28 तक बंद

हाईकोर्ट प्रशासन की कमेटी ने कोरोना वायरस के संक्रमण की विभीषिका को देखते हुए प्रदेश के सभी जिला न्यायालयों और अधिकरणों को 28 मार्च तक के लिए बंद कर दिया है। सभी जिला जजों को निर्देश दिया गया है कि वे सिर्फ अति आवश्यक मुकदमे की सुनवाई की व्यवस्था करें।

हर गरीब तक पहुंचनी चाहिए राहत: अखिलेश

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि कोरोना वायरस के संकट में भाजपा सरकार को असंगठित क्षेत्र के आटो चालकों तथा सड़क किनारे छोटे मोटे सामान या खाद्य पदार्थ बेचने वालों की दशा पर भी संवेदना के साथ विचार करना चाहिए। राहत से कोई गरीब व वंचित छूटने न पाए।

अफवाह फैलाई तो होगी सख्त कार्रवाई : डीजीपी

कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए रविवार को जनता कर्फ्यू के दौरान पुलिस अफवाह फैलाने वालों पर पैनी नजर रखेगी। डीजीपी एचसी अवस्थी ने कहा है कि अफवाह फैलाने वालों और कालाबाजारी करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई होगी। जनता कर्फ्यू के दौरान पुलिस भूमिका के संबंध में डीजीपी ने विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किया है।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए जनता कर्फ्यू का बड़ा असर, पूरे अयोध्या मंडल में पसरा सन्नाटा

Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned