आवास नहीं मिला तो शौचालय में गुजर-बसर करने लगी गरीब विधवा, देखें वीडियो

बाराबंकी के विकासखंड त्रिवेदीगंज इलाके के गांव मनोधरपुर की रहने वाली गरीब विधवा रामप्यारी कभी तिरपाल तो कभी खुले आसमान के नीचे गुजरबसर करती है।

By: Mahendra Pratap

Updated: 30 Aug 2020, 02:35 PM IST

Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बाराबंकी. बाराबंकी के विकासखंड त्रिवेदीगंज इलाके के गांव मनोधरपुर की रहने वाली गरीब विधवा रामप्यारी कभी तिरपाल तो कभी खुले आसमान के नीचे गुजरबसर करती है। मगर बरसात का सीजन होने के नाते वह प्रधानमंत्री द्वारा मिले शैचालय में अपना आशियाना बना कर बारिश से बचने का काम कर रही है। एक छोटे से शौचालय में खाना बनाना, खाना और सोना कितना कठिन होगा इसकी कल्पना भी करना मुश्किल है। रामप्यारी बताती है कि उनका कच्चा मकान दस साल पहले ही गिर गया था और आर्थिक तंगी की वजह से वह घर को दोबारा नही बनवा सकीं। प्रधानमंत्री आवास के लिए जब वह लोगों से संपर्क करती हैं तो उन्हें आस्वासन तो मिलता है मगर पात्रता सूची में नाम दर्ज नहीं किया जाता। इस मामले में जब स्थानीय ग्राम प्रधान से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि इनका नाम सूची में डलवाया गया है। यह पात्र भी है लेकिन इनको अभी तक आवास नहीं मिल पाया है। इनके सम्बन्ध में खण्ड विकास अधिकारी से भी कई बार मिल चुके हैं। मगर अभी नई पात्रता सूची में नाम न आने के कारण इनको आवास नहीं मिल पाया है। प्रधानमंत्री आवास हेतु पहले की सूची में इनका नाम नहीं आया था तो दोबारा मुख्यमंत्री आवास की सूची में इनका नाम भेजा गया है। जिसका सर्वे भी हो चुका है जैसे ही सूची प्राप्त होती है इन्हें आवास दिलवाने का काम किया जाएगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned