ट्रेन यात्री से चाकू की नोक पर लूटे 30 हजार

छबड़ा रेलवे स्टेशन पर ट्रेन संख्या 18 573 भगत की कोठी में रायपुर से सवाई माधोपुर के लिए बैठे ट्रेन यात्री बामनवास तहसील के अमावस निवासी लोकेश मीणा के साथ शुक्रवार सुबह ट्रेन में चार अज्ञात लोगों ने चाकू दिखाकर बैग छीन लिया और उसमें रखी पेंट की जेब से तीस हजार की नकदी निकाल ली।

By: Mahesh

Published: 07 Mar 2020, 10:04 AM IST

छबड़ा. छबड़ा रेलवे स्टेशन पर ट्रेन संख्या 18 573 भगत की कोठी में रायपुर से सवाई माधोपुर के लिए बैठे ट्रेन यात्री बामनवास तहसील के अमावस निवासी लोकेश मीणा के साथ शुक्रवार सुबह ट्रेन में चार अज्ञात लोगों ने चाकू दिखाकर बैग छीन लिया और उसमें रखी पेंट की जेब से तीस हजार की नकदी निकाल ली। लोकेश मीणा ने बताया कि सुबह 8 .30 वह ट्रेन की गैलरी में सो रहा था। छबड़ा स्टेशन पर ट्रेन रुकी तो नाश्ता करने के बाद वापस ट्रेन में चढ़ा तो 4 अज्ञात युवकों ने उनका बैग छीन लिया और शोर मचाने पर उसे बाथरूम में बंद कर दिया। इसके बाद उसने घटना की जानकारी मोबाइल से अपने जीजा को दी, इसके बाद लुटेरों ने बेग तो वापस दे दिया, लेकिन बैग में पैसे नहीं थे। जिस पर चारों ने फिर उसे धमकाया। एक यात्री मदद के लिए आया तो उसे भी उन्होंने मारने की धमकी दी। ट्रेन के बारां स्टेशन पर पहुंचने के पहले आउटर पर चारों जने ट्रेन से उतर कर भाग गए। जीआरपी चौकी बारां के इंचार्ज सत्यनारायण चौधरी को फोन पर घटना की जानकारी मिलने पर बारां स्टेशन पर ट्रेन के पहुंचने के बाद उन्होंने लोकेश मीणा से संपर्क कर पूरे मामले की जानकारी ली एवं उसके द्वारा बताए गए स्थान पर चारों को ढूंढने का प्रयास किया। बाद में लोकेश ने कोटा जीआरपी थाने में जाकर अपने साथ हुई लूट की रिपोर्ट दर्ज कराई। लोकेश ने बताया कि छबड़ा स्टेशन पर अगर आरपीएफ द्वारा उन्हें सुरक्षा दी जाती तो शायद यह घटना घटित नहीं होती। जिससे छबड़ा स्टेशन पर आने वाली ट्रेनों और उनके यात्रियों की सुरक्षा पर बड़ा सवालिया निशान खड़ा होता है।

ट्रेन पर पथराव कर भागे अज्ञात लोग
-आरपीएफ ने बताया चेन पुलिंग की घटना
छबड़ा. क्षेत्र में कोटा-बीना रेल लाइन पर गुरुवार रात करीब 1.30 बजे जोधपुर-भोपाल ट्रेन छबड़ा से किलोमीटर 139 भुलोन मोतीपुरा के बीच खेड़ली फाटक गांव के सामने अचानक रुकती है और कुछ लोग ट्रेन से उतर कर भागते हैं। पास में खेड़ली फाटक पर किसान दीपकरण मीणा के घर कीर्तन का कार्यक्रम चल रहा था। कीर्तन में शामिल ग्रामीण संजू मीणा, राजेश मीणा सहित अन्य लोग अचानक ट्रेन के रुकने पर ट्रेन के पास पहुंचे तो उन्होंने देखा कि कुछ लोग ट्रेन पर पत्थरबाजी कर माणक चौक ग्राम की तरफ भागे। भागते लोगों ने खेड़ली के ग्रामीणों की तरफ भी पत्थर फेंके।
इस पूरे मामले में आरपीएफ छबड़ा चौकी इंचार्ज हंसराज मीणा ने इसे सामान्य चेन पुलिंग की घटना बताया। उनके अनुसार किलोमीटर 139 भुलोन -मोतीपुरा के बीच कुछ लोगों ने चेन पुलिंग की थी। ट्रेन में मौजूद आरपीएफ जवान ने चेन पुलिंग के बाद भागते लोगों पर टॉर्च दिलाई तो उन्होंने पत्थर फेंके थे वहीं क्षेत्र के कुछ ग्रामीणों ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि ट्रेन में लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए क्षेत्र के पारदी लोगों का इसमें शामिल होना बताया है। छबड़ा से गुना तक का रेलवे सेक्शन संवेदनशील माना जाता है। यहां पूर्व में भी ट्रेनों पर लूट पत्थरबाजी की घटनाएं होती रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned