script59 corona infected found in the district, treatment at home | जिले में मिले 59 कोरोना संक्रमित, घरों पर ही उपचार | Patrika News

जिले में मिले 59 कोरोना संक्रमित, घरों पर ही उपचार

जीनोम टेस्ट के लिए अब प्रति सप्ताह भेजेंगे 20 सेम्पल, जिले में एक्टिव केस बढ़कर हुए 136, तीन रोगियों को कोरोना

बारां

Published: January 12, 2022 09:14:04 pm

बारां. जिले में बुधवार को फिर 59 जने कोरोना संक्रमित मिले हैं। अब कोरोना संक्रमण की गति बढऩे से लोगों को सरकार की गाइड लाइन की पालना करना आवश्यक हो गया है। चिकित्सा सूत्रों का कहना है कि जिले में मामूली लक्षण वाले संक्रमित मिल रहे हैं, इन्हें घरों पर ही आइसोलेट कर उपचार किया जा रहा है।
जिले में 59 कोरोना रोगी मिलने से लोगों में स्वास्थ्य को लेकर चिंता होने लगी है। बारां जिले में भी कोरोना के रोगी बढ़ रहे हैं। अब जिले में एक्टिव केस बढ़कर 136 हो गए है। हालांकि फिलहाल किसी रोगी को चिकित्सालय में उपचार के लिए भर्ती नहीं कराया गया है। जिला चिकित्सालय में भर्ती एक रोगी अन्य बीमारी से ग्रसित था, उसे कोरोना हुआ है। यहां उसका उपचार किया जा रहा है। बारां निवासी एक महिला कोटा व एक जना झालावाड़ में भर्ती हैं। इनकी जांच में कोरोना की पुष्टि हुई हैञ चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने जिला चिकित्सालय के अलावा सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में उपचार की तैयारियां शुरू कर दी है। दूसरी लहर में ऑक्सीजन की खासी किल्लत से उपचार में परेशानी हुई थी, लेकिन अब जिले में सात सौ आक्सीजन सिलेंडर उत्पादन संयंत्र कार्य करने लगे हैं।
यहां मिले इतने संक्रमित रोगी
बुधवार को बारां शहर में 44, शाहाबाद ब्लॉक में 2, अन्ता में 7, अटरू में 3, बारां ब्लॉक में 2 व कियानगंज में एक संक्रमित मिले हैं। इनके अलावा झालावाड़ में भी बारां जिला निवासी एक जना संक्रमित मिला है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. सम्पतराज नागर ने बताया कि जिले से जीनोम टेस्ट के लिए प्रति सप्ताह 20 सेम्पल भेजने के निर्देश मिले हैं। पूर्व में भेजे सेम्पल की रिपोर्ट नेगेटिव मिली है। ऐसे में फिलहाल जिले में कोई भी ओमिक्रॉन संक्रमित नहीं है।

जिले में मिले 59 कोरोना संक्रमित, घरों पर ही उपचार
जिले में मिले 59 कोरोना संक्रमित, घरों पर ही उपचार

पैनिक न हो, यह बरतें सावधानी
वरिष्ठ फिजिश्यिन डॉ. केके कतियाल का कहना है कि अफ्रीका व यूके आददि देशों के बाद भारत में भी कोरोना के ऑमिक्रोन वेरिएंट के रोगी बढ़ रहे हैं। बारां जिले में पिछले दो दिनों से आरटीपीसीआर जांच में अधिक रोगी मिले हैं। यह वेरिएंट दूसरी लहर के डेल्टा की तुलना में कम असर वाला है, लेकिन इसका संक्रमण तेजी से फैलता है। सर्दी, जुकाम, खांसी, सिरदर्द व कंपकंपी के बाद बुखार आना इसके लक्षण है। ऐसे में कोरोना प्रोटोकॉल की विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए। डॉ. कतियाल के अनुसार वर्तमान में यह सावधानियां बरतना चाहिए।
-ओमिक्रोन संक्रमण तेजी से फैलता है, ऐसे में सोशल डिस्टेसिंग के साथ मास्क लगाना आवश्यक है।
-घर के किसी सदस्य के कोरोना होने की पुष्टि के बाद अलग आइसोलेट करें तथा परिवार के अन्य लोगों की भी जांच आरटीपीसीआर जांच कराएं।
-आइसोलेशन की अवधि 14 दिन की रखें, हालांकि संक्रमित लोग सात से आठ दिन मेें स्वस्थ हो जाते हैं।
-कोरोना के लक्षण नजर आने पर जांच कराएं तथा चिकित्सक के परामर्श से ही उपचार लें।
-एक बार रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी खुद को स्वस्थ महसूस नहीं करें तो फिर से आरटीपीसीआर टेस्ट कराएं।
-घर में किसी सदस्य के कोरोना संक्रमित होने के बाद उसके सम्पर्क में आने से बचें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

शिवराज सरकार के मंत्री ने राष्ट्रपिता को बताया फर्जी पिता, तीन पूर्व पीएम पर भी साधा निशानाSC-ST को आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, राज्य तय करें प्रमोशन का पैमानाNeoCov: ओमिक्रॉन के बाद सामने आया कोरोना का नया वैरिएंट 'नियोकोव' और भी खतरनाकDCGI ने भारत बायोटेक को इंट्रानैसल बूस्टर डोज के ट्रायल की दी मंजूरी, 9 जगहों पर होंगे परीक्षणAkhilesh Yadav और शिवपाल यादव को हराने के लिए मायावती के प्लान B का खुलासाUP Election 2022: सत्ता पक्ष और विपक्ष का पश्चिमी यूपी साधने पर पूरा जोर, नेता घर-घर जाकर मांग रहे हैं वोटUP Assembly Elections 2022 : आजम खान के बेटे अब्दुल्ला को हत्या का डर, बोले- सुरक्षाकर्मी ही मुझे मार सकते हैं गोलीPariksha Pe Charcha 2022 : रजिस्ट्रेशन की तारीख 3 फरवरी तक बढ़ाई, जानिए कैसे करें अप्लाई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.