अभियुक्त को सात साल की सजा

प्राणघातक हमले के आरोपी को सात साल के कठोर कारावास व 50 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित किया है। अपर लोक अभियोजक हितेन्द्र सिंह हाड़ा ने बताया कि

By: Ghanshyam

Published: 19 Jan 2019, 07:52 PM IST

बारां. अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश (क्रम 2) शिवचरण ने शुक्रवार को प्राणघातक हमले के आरोपी को सात साल के कठोर कारावास व 50 हजार रुपए के अर्थदंड से दंडित किया है। अपर लोक अभियोजक हितेन्द्र सिंह हाड़ा ने बताया कि कोटड़ी तुलसा निवासी सूर्यप्रकाश उर्फ सूरज मीणा ने पर्चा बयानों में बताया था कि वह 6 फरवरी 2013 को हाऊसिंग बोर्ड कॉलोनी से बुआ के पास जा रहा था। जब वह मनोज सुवालका के मकान के पास पहुंचा तो संदीप उर्फ गोलू, मनोज मीणा व रामराज मीणा आए। गोलू ने पेट में चाकू मारे, जिससे वह घायल होकर गिर गया। आसपाास के लोग हॉस्पिटल ले गए। थे। पुलिस ने पर्चा बयान के आधार पर प्राणघातक हमले का मामला दर्ज किया था। मामले की जांच में संजू को दोषी पाए जाने पर उसे गिरफ्तार किया गया था। बाद में उसके खिलाफ न्यायालय में चालान पेश किया था। न्यायाधीश ने गवाह व साक्ष्यों के आधार पर अभियुक्त दोषी मानते हुए सजा सुनाई है।
५० मेगावाट पर चल रही पहली इकाई
छबड़ा. पिछले 26 दिनों से शटडाउन पर चल रही छबड़ा सुपर थर्मल पावर प्लांट की पहली इकाई को गुरुवार को सिंक्रोनाइज तो कर दिया, लेकिन तकनीकी व्यवधान के चलते शुक्रवार को महज ५० मेगावाट के लोड पर चलाया जा रहा है। थर्मल के मुख्य अभियंता प्रमोद अग्रवाल के अनुसार गत माह वार्षिक रख रखाव व मरम्मत के लिए पहली इकाई को शटडाउन पर लिया था। इकाई के कुछ उपकरणों में तकनीकी समस्या के चलते इसे 250 मेगावाट के बजाए 50 मेगावाट पर ही चलाया जा रहा है। जल्दी ही इसका लोड बढ़ाया जाएगा। थर्मल की दूसरी, तीसरी व चौथी इकाइयों को २५० मेगावाट के फुल लोड पर विद्युत उत्पादन जारी है।
रिपोर्ट - हंसराज शर्मा द्वारा
----------------------

Ghanshyam Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned