अजब गजब, देखिये वीडिय़ो भी-- यहां खतरनाक नाग व इनसान एक ही कटोरी से एक साथ पीते हैं दूध

Shiv Bhan Singh | Updated: 14 Sep 2019, 05:30:06 PM (IST) Baran, Baran, Rajasthan, India

अजब गजब, देखिये वीडिय़ो भी--
यहां खतरनाक नाग व इनसान एक ही कटोरी से एक साथ पीते हैं दूध

बारां. इसे विश्वास कहे या अंधविश्वास जिले के सीसवाली कस्बे में तेजाजी के थानक पर घोड़ले व नाग द्वारा एक साथ एक कटोरी में दूध पीने का वाक्या सामने आया। इसे ग्रामीणों ने बड़े ही कोतुहलता से देखा। लेकिन यह मामला क्या ह, कैसे यह संभव है लोगों की समझ नहीं आ रहा है।

अजब गजब, देखिये वीडिय़ो भी--
यहां खतरनाक नाग व इनसान एक ही कटोरी से एक साथ पीते हैं दूध

बारां. इसे विश्वास कहे या अंधविश्वास जिले के सीसवाली कस्बे में तेजाजी के थानक पर घोड़ले व नाग द्वारा एक साथ एक कटोरी में दूध पीने का वाक्या सामने आया। इसे ग्रामीणों ने बड़े ही कोतुहलता से देखा। लेकिन यह मामला क्या ह, कैसे यह संभव है लोगों की समझ नहीं आ रहा है।
सीसवाली कस्बे के कृषि उपज मण्डी प्रांगण में स्थित तेजाजी महाराज के थानक पर शुक्रवार रात्रि को तेजाजी महाराज का जागरण किया गया। यहां जागरण के दौरान गुर्जर समाज के मन्दिर की पुरक्रमा की जगह से नागराजा को पुजारी रामबाबू कुम्हार के द्वारा लाया गया। जहां तेजाजी महाराज के घोड़ले ने नागराजा को अपने गले में डाल कर घोडले व नाग राजा ने एक ही कटोरी में एक साथ दूध पीया। इस दृश्य को सैकड़ों लोगों ने अपनी आंखों से देखा। जागरण मे आए सभी ग्रामीण श्रद्धालुओं ने नागराजा के दर्शन किए। ग्रामीण यहां पर जहरीले कीड़े के काटने पर ढंसी भी तेजाजी के थानक पर काटवाने आते हैं।
प्रीती मीणा बनी करिज्मा मिसेज इंडिया

बारां. सिने नगरी मुम्बई में गत दिनों आयोजित करिज्मा मिसेज इंडया २०१९ प्रतियोगिता में बारां की प्रोफेसर प्रीती मीणा मिसेज इंडिया चुनी गई। प्रीती के पति बारां में विकास अधिकारी के पद पर कार्यरत हैंं जब कि प्रोफेसर प्रीती स्वयं कोटा के जेडीबी कॉलेज में समाज शास्त्र की प्रोफेसर हैं। १० सितम्बर को मुम्बई में आयोजित इस प्रतियोगिता में ६० महिलाओं ने हिस्सा लिया था। अंतिम निर्णय प्रीती के पक्ष में आया। प्रीती सामाजिक कार्र्यकर्ता और परमार्थ फाउंडेशन की राज्य स्तरीय इकाई की निदेशक भी हैं। प्रीती मूल रूप से सवाई माधोपुर जिले के सांकड़ा गांव की निवासी हैं। उन्होंने मुख्य समारोह में यूं ही अंधेरों में रोशन चिराग नहीं होते,कुछ तो साजिशें हवाओं ने भी की होगी शेर सुनाकर राजस्थान को अभिवादन करने के बाद अपनी बात कही।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned