analytical...कब सुधरेंगे हालात, नदी-खाळों की रपटें बदहाल, नहीं ले रहे सुध

analytical...कब सुधरेंगे हालात, नदी-खाळों की रपटें बदहाल, नहीं ले रहे सुध

Shivbhan Sharan Singh | Publish: Jan, 14 2018 07:25:04 PM (IST) Baran, Rajasthan, India

टूटी रपट व पुलियाओं के निर्माण व मरम्मत को लेकर सम्बंधित विभाग का ध्यान नहीं होने से लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है

हरनावदाशाहजी. कस्बे से जुड़े विभिन्न मार्गों की टूटी रपट व पुलियाओं के निर्माण व मरम्मत को लेकर सम्बंधित विभाग का ध्यान नहीं होने से आवाजाही के दौरान लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। कुछ स्थानों पर तो पुलियाएं जमींदोज होकर राह की बाधा बनी है। जहां से होकर वाहनों की आवाजाही बाधित हो रही है।जानकारी के अनुसार बोरखेड़ी मार्ग पर कस्बे के निकट स्थित रपट करीब डेढ़ दशक पूर्व प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में बनी थी लेकिन घटिया निर्माण के कारण समय से पहले ही जर्जर होकर जमींदोज हो गई। समय रहते सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा इसकी सार-संंभाल नहीं किए जाने के कारण बरसात के दिनों में अकाल मौत का शिकार भी हो गए। उसके बाद भी हालात नही सुधर पाए। बल्कि आज जमीदोंज हो चुकी पुलिया के कारण ग्रामीणों को साइड से खाळ में होकर गुजरना पड़ता है। जबकि बरसात के दिनों में तो पानी में होकर ही आवाजाही का जोखिम लेने की मजबूरी रही। इन दिनों पुलिया टूटी पड़ी होने के बावजूद भी लोगों के लिए राहत की दिशा में कोई कार्यवाही होती नजर नही आ रही है जबकि इस पुलिया से करीब आधा दर्जन गांव भी जुड़े हुए है।
Read more : भ्रष्टाचारी सियार एसीबी के सामने हो रहे होशियार,कैसे बच निकलते हैं रिश्वतखोर चंगुल से जानिए...

यहां भी बना है खतरा
हरनावदाशाहजी-मनोहरथाना मार्ग की पुलिया भी स्टेट जमाने की बनी थी जो कि बरसात के उफान में बह कर क्षतिग्रस्त है। जिसके क्षतिग्रस्त हिस्से में मिट्टी डालकर वाहनों की आववाजाही जो सुचारू कर रखी है लेकिन दुर्घटना का खतरा हमेशा बना हुआ है।
बताया जाता है कि पुलिया की निर्माण स्वीकृति भी आई लेकिन कब आई और कब से काम चालू होगा इसकी जानकाारी विभाग के अधिकारियों से भी नहीं मिल पा रही है। ऐसे में कितने साल तक इन परेशानियों की पीड़ा झेलनी पड़ेगी, इसका कोई अंदाजा नहीं है।
Read more : चोर हथियार लेकर सिर पर खड़ा हो गया,वह देखता रहा और वह ले उड़े माल,खतरनाक चोरों की दास्तान....

बीमा दावा प्रपत्र ऑनलाइन करें
बारां. जिले के जिन राज्य कर्मचारियों की जन्म तिथि 01 अप्रेल 1958 से 31 मार्च 1959 है उन बीमेदारों की राज्य बीमा पॉलिसी 1 अप्रेल 2018 को परिपक्व हो रही है। राज्य बीमा एवं प्रावधायी निधि विभाग के सहायक निदेशक के अनुसार राज्य बीमा की अन्तिम कटौती माह दिसम्बर 2017 के वेतन से काट कर बीमा स्वत्व दवा प्रपत्र की पूर्ति कर आहरण वितरण अधिकारी के माध्यम से ऑनलाइन करवाकर कार्यालय को प्रस्तुत करें ताकि समय पर भुगतान संबंधी कार्यवाही की जा सके।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned