20 लाख रुपए से अधिक के नुकसान का अनुमान

20 लाख रुपए से अधिक के नुकसान का अनुमान

Hansraj Sharma | Publish: Apr, 17 2019 08:28:37 PM (IST) Baran, Baran, Rajasthan, India

बारिश से कृषि उपज मंडी में हजारों बोरी जिंस भीग गया। इससे किसान व व्यापारियों को करीब 20 लाख रुपए के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। हालांकि व्यापारिक सूत्र 25 से 30 लाख रुपए का नुकसान होने की जानकारी दे रहे हैं।

मंडी में भीगा हजारों बोरी जिंस
बारां. बारिश से कृषि उपज मंडी में हजारों बोरी जिंस भीग गया। इससे किसान व व्यापारियों को करीब 20 लाख रुपए के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। हालांकि व्यापारिक सूत्र 25 से 30 लाख रुपए का नुकसान होने की जानकारी दे रहे हैं। मंगलवार को मंडी में गेहूं की नीलामी का दिन नहीं होने से कम ही मात्रा में जिंस आई थी। इससे व्यापारी व किसान बड़े नुकसान से बच गए। मंडी सूत्रों के अनुसार सोमवार को मंडी में करीब ढाई लाख कट्टे गेहूं की आवक हुई थी, यह जिंस नीलामी के बाद व्यापारियों ने तुलाई कर उठवा ली थी। वहीं मंगलवार को मंडी में गेहूं को छोड़ रबी की अन्य जिंसों की नीलामी होने से देर रात तक करीब करीब 60 हजार कट्टे (30 हजार बोरी) जिंस की आवक हुई थी। सुबह करीब छह बजे बारिश का दौर शुरू होने से किसान गांवों में ही थम गए। टै्रक्टर-ट्रॉलियों में जिंस लेकर पहुंचे अधिकांश किसानों ने सुबह बारिश का दौर थमने के बाद में जिंस की नीलामी प्लेटफार्मों पर ढेरियां लगाई थीं। इनकी दोपहर में नीलामी होने के बाद शाम को तुलाई हो गई थी। ऐसे में खुले में रखी बारदाने में भरी जिंस भीगी है। मंडी व्यापारी सतीश गुप्ता ने बताया कि गेहूं की नीलामी का दिन नहीं होने से कोई खास नुकसान नहीं हुआ। बारदाने में भरी जिंस भी धूप निकलने पर सूख जाएगी। वहीं गेहूं के बड़े खरीदार व सार्वजनिक संस्था धर्मादा के अध्यक्ष विमल बंसल का कहना है कि जिंस से ज्यादा नुकसान तो बारदाने का हुआ है। बारिश से खुले में रखे जिंस से भरे हजारों कट्टे भीगे हैं। इससे करीब 30 लाख रुपए के नुकसान का अनुमान है। उनका कहना है कि मोटे तौर पर पांच रुपए प्रति कट्टे बारदाने का नुकसान हुआ है। कुछ किसानों की जिंस भी भीगी है, लेकिन इसकी मात्रा कम होने से नुकसान टल गया।
आज नहीं होगी खरीद
एफसीआई मैनेजर मीणा ने बताया कि संभाग में अधिकांश खरीद केन्द्रों पर बारिश से भीगे खरीदे हुए गेहूं को मौसम साफ होने पर सुखा कर डिपो में परिवहन किया जाएगा। इसके चलते सभी खरीद केन्द्रों पर बुधवार को तुलाई कार्य संभव नहीं है। उन्होंने किसानों से बुधवार को जिंसों को खरीद केन्द्रों पर नहीं लाने की अपील की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned