scriptBaran News: छाती में हथौड़े का टुकड़ा टूटकर धंस गया, तड़प-तड़प कर हो गई मौत | Baran News: A piece of hammer broke and got stuck in the chest, he died in agony | Patrika News
बारां

Baran News: छाती में हथौड़े का टुकड़ा टूटकर धंस गया, तड़प-तड़प कर हो गई मौत

हेमराज हथौड़े से सरिए की कटिंग कर रहा था। हथोड़ा पुराना होने के चलते हथौड़े के हिस्से से लोहे का टुकड़ा टूटकर छाती में धंस गया।

बारांJun 20, 2024 / 07:27 pm

Santosh Trivedi

bran news
छबड़ा। बापचा थाना क्षेत्र स्थित क्रेशर पर कार्य करते समय एक मिस्त्री युवक की छाती में हथोडे का टुकड़ा धंस जाने से मृत्यु हो गई। चिकित्सालय में परिजन मुआवजे की मांग पर अड़ गए और हंगामा करने लगे। इस पर तहसीलदार व सीआई की मौजूदगी में समझौते के बाद पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया।
बापचा थानाधिकारी बुद्धराम जाट ने बताया कि बापचा निवासी हेमराज (28) पुत्र प्रेमनारायण लोधा क्रेशर पर कार्य करता था। बुधवार सुबह 10 बजे हथौड़े से सरिए की कटिंग कर रहा था। हथोड़ा पुराना होने के चलते हथौड़े के हिस्से से लोहे का टुकड़ा टूटकर छाती में धंस गया। छबड़ा चिकित्सालय लाने के दौरान हेमराज की मृत्यु हो गई।
युवक की मृत्यु की सूचना पर समाज के प्रतिनिधि रूपसिंह लोधा, एडवोकेट अमृतलाल लोधा, लाखनसिंह, मोरसिंह गुर्जर, बुलंद इकबाल, भंवरसिंह लोधा, भूलोन सरपंच राहुल शर्मा सहित बड़ी संख्या में लोग चिकित्सालय पहुंच गए और क्रेशर संचालक से 50 लाख रुपए मुआवजे की मांग करने लगे। यहां परिजनों व समर्थको द्वारा तीन चार घंटे तक राशि पर सहमति नहीं बनने तक मृतक का पीएम नही होने दिया।
baran today news
मोर्चरी के बाहर लगी भीड़
इस दौरान तहसीलदार अभिषेक पारीक, सीआई राजेश खटाणा ने चिकित्सालय पहुंचकर समझाइश की। अंत में क्रेशर संचालक द्वारा 14 लाख रूपए नगद एवं 11 लाख रूपए बीमा राशि के रूप में मिलने का आश्वासन एवं लिखा-पढी होने के बाद समाज के लोगो ने मृतक का पोस्टमार्टम करवाया।

नियम विरूद्ध संचालित है गिट्टी क्रेशर

बारां के छबड़ा क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक गिट्टी क्रेशर संचालित हैं। स्टोन क्रेशर लगाने के लिए प्रशासन, खनन विभाग व प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से मंजूरी लेनी पड़ती हैं और क्रेशर पर कार्यरत कर्मियो का ग्रुप इंश्योरेंस करवाना होता हैं, लेकिन क्रेशर मालिक आवश्यक अनुमतियों के बिना ही क्रेशर संचालित कर रहे हैं। इनके पास कार्यरत कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए भी कोई उपकरण नही हैं। जिसके चलते आए-दिन कई लोग दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं।

Hindi News/ Baran / Baran News: छाती में हथौड़े का टुकड़ा टूटकर धंस गया, तड़प-तड़प कर हो गई मौत

ट्रेंडिंग वीडियो