'बिटिया @ work बेटियां जब पहुंची पैरेंट्स के ऑफिस तो उत्साह और खुशी से लबरेज हो गया माहौल

Shiv Bhan Singh | Updated: 17 Sep 2019, 09:11:57 PM (IST) Baran, Baran, Rajasthan, India

'बिटिया @ work . बेटियां जब पहुंची पैरेंट्स के ऑफिस तो उत्साह और खुशी से लबरेज हो गया माहौल बेटियों का अपने पैरेंट्स के ऑफिस जाना खास अनूभूति रही। उत्साह उमंग और खुशी लिए बेटियां अपने पापा अथवा माता के साथ उनके कार्यस्थलों पर पहुंची। जहां एक तरफ उन्होंने अपने माता-पिता के काम को समझा, वहीं कार्यस्थल पर होने वाली चुनौतियों को भी समझना उनके लिए खास अनुभव रहा। बेटियों के आत्मविश्वास को बढ़ाने से लेकर उनमें अपने पैरेंट्स के प्रति गर्व की भावना को जागृत करने के उद्देश्य से अनूठा अभियान 'बिटिया इन ऑफि

बेटियां जब पहुंची पैरेंट्स के ऑफिस तो उत्साह और खुशी से लबरेज हो गया माहौल
बेटियों का अपने पैरेंट्स के ऑफिस जाना खास अनूभूति रही। उत्साह उमंग और खुशी लिए बेटियां अपने पापा अथवा माता के साथ उनके कार्यस्थलों पर पहुंची। जहां एक तरफ उन्होंने अपने माता-पिता के काम को समझा, वहीं कार्यस्थल पर होने वाली चुनौतियों को भी समझना उनके लिए खास अनुभव रहा। बेटियों के आत्मविश्वास को बढ़ाने से लेकर उनमें अपने पैरेंट्स के प्रति गर्व की भावना को जागृत करने के उद्देश्य से अनूठा अभियान 'बिटिया इन ऑफिसÓ आयोजित किया। इसी के तहत बारां जिले में लाड़लियों को कैसी अनूभूति हुई इसकी एक झलक...
खिलाड़ी बन कर लाडली पहुंची मैदान पर
ऑफिस : रामावि पिपलोद अटरू
बिटिया का नाम : श्रेयशी
पिता का नाम : हरिओम शर्मा (शारीरिक शिक्षक)
आज सुबह जब मैं पापा के साथ खेल मैदान पर पहुंची तो पता लगा की खिलाडिय़ों के साथ पापा कितनी मेहनत करते है। मैने पापा की मेहनत को पहचाना। श्रेयशी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned