scriptरुपए कटने का डर दिखा एफडी के 5.5 लाख उड़ाए, खाते में छोड़े केवल 73 रुपए | cyber fraud in baran | Patrika News
बारां

रुपए कटने का डर दिखा एफडी के 5.5 लाख उड़ाए, खाते में छोड़े केवल 73 रुपए

अनावश्यक राशि को कटने से बचाने का डर दिखाकर मोबाइल पर एप डाउनलोड करने का झांसा देकर शातिर ठग ने महिला की एफडी सहित उसके पति के खाते से 5 लाख 66 हजार 500 रुपए उड़ा लिए। पीडि़त दंपती को इसकी सूचना बैंककर्मी से मिली तो उनके होश उड़ गए। तुरंत गांव से बैंक पहुंचे और स्टेटमेंट निकालवाया तो दोनों के खाते साफ किए जाने का पता लगा। इसके बाद साइबर पुलिस थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई गई, लेकिन कोई राहत नहीं मिली। बाद में सोमवार को एसपी को परिवाद देकर कार्रवाई की मांग की।

बारांJun 24, 2024 / 11:45 pm

mukesh gour

अनावश्यक राशि को कटने से बचाने का डर दिखाकर मोबाइल पर एप डाउनलोड करने का झांसा देकर शातिर ठग ने महिला की एफडी सहित उसके पति के खाते से 5 लाख 66 हजार 500 रुपए उड़ा लिए। पीडि़त दंपती को इसकी सूचना बैंककर्मी से मिली तो उनके होश उड़ गए। तुरंत गांव से बैंक पहुंचे और स्टेटमेंट निकालवाया तो दोनों के खाते साफ किए जाने का पता लगा। इसके बाद साइबर पुलिस थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई गई, लेकिन कोई राहत नहीं मिली। बाद में सोमवार को एसपी को परिवाद देकर कार्रवाई की मांग की।

अनावश्यक राशि को कटने से बचाने का डर दिखाकर मोबाइल पर एप डाउनलोड करने का झांसा देकर शातिर ठग ने महिला की एफडी सहित उसके पति के खाते से 5 लाख 66 हजार 500 रुपए उड़ा लिए। पीडि़त दंपती को इसकी सूचना बैंककर्मी से मिली तो उनके होश उड़ गए। तुरंत गांव से बैंक पहुंचे और स्टेटमेंट निकालवाया तो दोनों के खाते साफ किए जाने का पता लगा। इसके बाद साइबर पुलिस थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई गई, लेकिन कोई राहत नहीं मिली। बाद में सोमवार को एसपी को परिवाद देकर कार्रवाई की मांग की।

शातिरों ने पति-पत्नी के बैंक खाते किए साफ

बारां. अनावश्यक राशि को कटने से बचाने का डर दिखाकर मोबाइल पर एप डाउनलोड करने का झांसा देकर शातिर ठग ने महिला की एफडी सहित उसके पति के खाते से 5 लाख 66 हजार 500 रुपए उड़ा लिए। पीडि़त दंपती को इसकी सूचना बैंककर्मी से मिली तो उनके होश उड़ गए। तुरंत गांव से बैंक पहुंचे और स्टेटमेंट निकालवाया तो दोनों के खाते साफ किए जाने का पता लगा। इसके बाद साइबर पुलिस थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराई गई, लेकिन कोई राहत नहीं मिली। बाद में सोमवार को एसपी को परिवाद देकर कार्रवाई की मांग की।
ठगों ने ऑनलाइन ही तुड़वा ली एफडी

हरिपुरा निवासी कौशल कुमार मीणा ने बताया कि 20 जून शाम करीब 4 बजे उसे एक अनजान व्यक्ति ने फोन कर खुद को बैंककर्मी बताते हुए कहा कि आपका अनावश्यक चार्ज कट रहा है। ङ्क्षलक भेज रहे है, जिसे डाउनलोड करने पर चार्ज कटना बंद हो जाएगा और जो अब तक कटा है वह भी वापस खाते में आ जाएगा। पीडि़त ने मामला समझा नहीं आते देख उसके 15 वर्षीय पुत्र को मोबाइल सौंप दिया, लेकिन ठग ने उसे भी झांसे में ले लिया और ङ्क्षलक से एप डाउनलोड करा लिया। इसके बाद ठग ने विश्वास में लेते हुए बैंक में किसी प्रकार की समस्या आने पर कस्टमर केयर नंबर भी लिखा दिए। दूसरे दिन 21 जून की शाम करीब 6 बजे बारां में चारमूर्ति चौराहा के समीप स्थित एयू बैंक शाखा से फरियादी को बैंक कर्मी ने फोनकर कहा कि आपको ऐसा क्या काम पड़ गया जो 5 लाख रूपए की एफडी तुड़वा ली। एफडी फरिवादी की पत्नी जसोदा बाई के नाम से थी। इसके उन्हें 5 लाख 38 हजार रुपए मिलने थे।
बैंक से मिली सूचना

परिवादी कौशल के बैंक खाते में भी 33 हजार 500 रूपए जमा थे। दोनों पति-पत्नी के खाते एयू बैंक में ही हैं और दोनों में एक ही मोबाइल नम्बर है। बैंक से सूचना मिलते ही दोनों पति-पत्नी एक पल भी गंवाए तुंरत बैंक पहुंचे और जानकारी ली। इसमें सामने आया कि ठग ने बैंक खाता हैककर 10 बार में साढ़े 5 लाख रुपए और 11वीं बार में 33 हजार 500 रुपए निकाल लिए तथा उन्हें 7 बैंक खातों में ट्रांसफर कर लिया। परिवादी के खाते में अब 404 व पत्नी के खाते में मात्र 73 रूपए शेष बचे हैं। कौशल ने बताया कि वह खेती व मजदूरी करके परिवार का गुजारा कर रहा है। एफडी उसने बच्चों की पढ़ाई और उनके भविष्य के लिए कराई थी। उसके पांच बच्चे हैं। इतनी बड़ी ठगी का शिकार होने से वह और उसका पूरा परिवार सदमें में है।

Hindi News/ Baran / रुपए कटने का डर दिखा एफडी के 5.5 लाख उड़ाए, खाते में छोड़े केवल 73 रुपए

ट्रेंडिंग वीडियो