दो माह से सफाई कर्मियों की हड़ताल

दो माह से वेतन बढ़ानेे की मांग को लेकर सफाई कर्मचारियों की हड़ताल होने से गली-मौहल्लों में जगह-जगह गंदगी के ढेर लग गए है। नालियों के गंदा पानी का सडक़ों पर भराव होने लगा है।

By: Ghanshyam

Published: 25 Nov 2018, 10:04 PM IST

नाली का पानी सडकों पर जमा
अटरू. कस्बें मे करीब दो माह से वेतन बढ़ानेे की मांग को लेकर सफाई कर्मचारियों की हड़ताल होने से गली-मौहल्लों में जगह-जगह गंदगी के ढेर लग गए है। नालियों के गंदा पानी का सडक़ों पर भराव होने लगा है। इससे लोगों को भारी असुविधा व परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उपखण्ड अधिकारी, विकास अधिकारी, सरपंच, ग्राम सेवक सहित पंचायत समिति के अन्य कर्मचारियों के प्रयासों से दिवाली पूर्व हाट बाजार सहित मुख्य सडक़ मार्ग की सफाई कराई गई थी। उस समय सफाई के लिए टे्रक्टर-ट्रॉली लगाने, जगह-जगह कचरा पात्र रखाने आदि की बाते की गई थी। उससे कस्बें के लोगो को लगा था कि अब कस्बे की गंदगी से निजात मिलेगी, लेकिन काम नहीं हुआ तथा कुछ दिनों बाद हालात जस के तस हो गए।
यहां से गुजरने में परेशानी
कस्बे के मध्य में स्थित महिला पार्क के समीप बने बरसों पुराने सार्वजनिक शौचालय के पास गंदगी के इतने ढ़ेर लगे हुए है कि यहां निकलना मुश्किल हो रहा है। स्वच्छता अभियान के समय इस शौचालय को तोडऩे को लेकर भी चर्चा हुई थी, लेकिन बाद में इसे भी नहीं हटाया गया।
प्राकृतिक संसाधनों का उपयोग करें
अन्ता. निकटवर्ती ग्राम बरखेड़ा में संचालित आदर्श विद्या मंदिर माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को ‘वैज्ञानिक सोच का विकास विज्ञान’ विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। इस दौरान मुख्य अतिथि मृदा वैज्ञानिक डॉ. सुभाष असवाल ने कहा कि वर्तमान में विज्ञान के युग ने हर क्षेत्र में पहचान बनाई है, लेकिन इसके बावजूद प्राकृतिक संसाधनों से दूर नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सूर्य को अध्र्य देने के पीछे भी वैज्ञानिक महत्व छिपा है, इससे नेत्र ज्योति बढ़ती है। इसी तरह इन दिनों कई लोग प्राकृतिक शक्तियों से दूर रहकर विभिन्न बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। विशिष्ट अतिथि सेवानिवृत्त शिक्षक बंशीलाल सुमन ने इस अवसर पर बालकों को अंधविश्वास तथा रूढि़वादियों से दूर रहकर लगन से काम करने की सलाह दी। वहीं अध्यक्षता कर रहे धनराज मालव तथा आचार्य लोकेन्द्र नागर ने ‘विज्ञान का हमारे दैनिक जीवन में महत्व’ विषय पर विस्तृत जानकारी दी। आयोजन के बीच छात्र-छात्राओं की ओर से पूछे गए प्रश्नों का समाधान भी किया गया। समारोह में विशिष्ठ अतिथि के तौर पर तकनीकी विशेषज्ञ विजेन्द्र सिंह शक्तावत, प्रांतीय समग्र ग्राम विकास प्रमुख समिति के रमेश शाक्यवाल, महावीर वैष्णव सहित कई लोग मौजूद थे।
रिपोर्ट - हंसराज शर्मा द्वारा
----------------------

Ghanshyam Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned