बिजली बन रही मौत का कारण,कइयों की ले चुकी जान, परिवार पर भारी पड़ सकती है विभाग की मनमानी

बारां जिले में बिजली की परेशानी अब लोगों की जान लेने लगी है। अधिकारी निजी कर्मियों को खम्भों पर चढ़ा कर काम करवा रहे हैं।

By: Shivbhan Sharan Singh

Published: 07 Jun 2018, 07:22 PM IST

बारां जिले में बिजली की परेशानी अब लोगों की जान लेने लगी है। विभाग के अधिकारी निजी कर्मियों को खम्भों पर चढ़ा कर काम करवा रहे हैं। अप्रशिक्षित लोग और पूर्ण सुरक्षा के इन्तजामों के बीच काम करते कई लोगों की जान जा चुकी है। बुधवार को ही एक युवक की मौत पर लोगों ने शव सड़क पर रख कर शहर में प्रदर्शन किया। बिजली की परेशानी के चलते कईं लोगों को बिजली ठीक करने खुद खंभों पर चढऩे पर मजबूर होना पड़ रहा है।अन्ता. निकटवर्ती ग्राम पचेलकलां में बुधवार सुबह उच्च क्षमता के विद्युत तारों से छू जाने के कारण इसी गांव के 27 वर्षीय युवक पूरण बैरवा की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार मृतक निजी तौर पर विद्युत मरम्मत का काम करता था। बुधवार को यह किसी उपभोक्ता की लाइन ठीक करने के लिए बिजली के खम्भे पर चढ़ा तो वहां करंट की चपेट में आ गया। उच्च क्षमता का करंट लगते ही युुवक झुलसकर जमीन पर आ गिरा। जिसे ग्रामवासी यहां स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर आए जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। इस सम्बन्ध में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की है।
महिला से की अभद्रता
कवाई. क्षेत्र के मोठपुर कस्बे में बुधवार दोपहर हाट बाजार में एक युवक ने शराब के नशे में महिला से गालीगलौच कर अभद्रता की। पुलिस के अनुसार महिला ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि वह हाट बाजार में किसी काम से जा रही थी तभी रास्ते में खड़े धर्मा बंजारा निवासी चोर तलाई ने उसके साथ गाली गलौच व अभद्रता की। पुलिस ने आरोपित की तलाश शुरू कर दी।
तीन आरोपितों को जेल भेजा
जलवाड़ा. पुलिस ने बुधवार को तीन आरोपितों को न्यायालय में पेश किया था। जहांं से उन्हे जेल भेज दिया। चौकी प्रभारी महेश चन्द उपाध्याय के अनुसार जलवाड़ा निवासी पप्पू ओढ़, उसके भाई खेमराज ओढ़, श्यामा ओढ़ को किशनगंज न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया। आरोपित २७ मई को वन कर्मियों द्वारा जब्त ट्रैक्टर ट्रॉली को जान से मारने की धमकी देकर पथराव कर छुड़ा ले गए थे।
सर्पदंश से युवक
की मौत
पलायथा. समीपस्थ खान की झौपडिय़ां गांव में बुधवार तड़के एक युवक की सर्पदंश से मौत हो गई। गांव का मुकेश कहार (२२) अपने ककड़ी के खेत में सिंचाई कर रहा था। तभी उसे नागिन ने डंस लिया। बाद में मुकेश को उसके पिता बालचंद व अन्य परिजन उपचार के लिए बारां ले गए। जहां जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक मुकेश के पड़ौसी गिरिराज कहार ने बताया कि मुकेश की बुधवार को ही विवाह की प्रथम वर्षगांठ थी और घर में खुशी का माहौल था। उसकी मौत से खुशियां मातम में बदल गई।
युवक की हत्या के आरोपित गिरफ्त से दूर

सीसवाली. थाना क्षेत्र के बालदड़ा गांव में अवैध खनन को लेकर मंगलवार सुबह हुई युवक की हत्या के आरोपितों का घटना के दूसरे दिन भी पता नहीं लगा। थानाप्रभारी सत्यनारायण सिंह ने बताया कि आरोपितों की सरगर्मी से तलाश जारी है। वहीं शांति व्यवस्था के लिए गांव में तीन पुलिस कर्मी व एक हैड कांस्टेबल को तैनात कर रखा है। पुलिस टीमों ने नोताडा, नागदा, खातौली, सुल्तानपुर में दबिश दी, लेकिन आरोपितों का पता नहीं चला। रायपुरिया में भी पुलिस कर्मी तैनात है। उल्लेखनीय है कि बालदड़ा निवासी मोहम्मद मिजान (२८) अटल सेवा केन्द्र के पास एक मकान में खड़ा हुआ था तभी नासीर सहित अन्य मोटरसाइकिल से आए और पिस्टल से गोली मार दी थी। जिससे मिजान गंभीर रूप से घायल हो गया और कोटा अस्पताल में पहुंचते ही उसकी मौत हो गई थी।
(पत्रिका संवाददाता)

Shivbhan Sharan Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned