वन विभाग की पौधशालाओं में तैयारी,सागवान फिर लौटाएगा समृद्धि जिलेभर में फैलेगी हरियाली की चादर

बारां. आगामी माह में मानसून की दस्तक से पहले जिले में वन विभाग द्वारा हरियाली की नींव रखने को लेकर तैयारियां की जा रही है।

By: Shivbhan Sharan Singh

Published: 16 May 2018, 03:46 PM IST

प्लांटेशनों में दस लाख पौधों का रोपण होगा
बारां. आगामी माह में मानसून की दस्तक से पहले जिले में वन विभाग द्वारा हरियाली की नींव रखने को लेकर तैयारियां की जा रही है। पिछले साल कम बारिश के चलते लगाए गए पौधों के पनपने में आई दिक्कत के बाद इस बार अच्छे मानसून की विभाग को आस है। जिले में चालू वित्तीय वर्ष में करीब दस लाख पौधे लगाए जाएंगे वहीं आमजन को करीब ६० हजार पौधे सशुल्क वितरित किए जाएंगे। इसके अलावा सागवान के भी ५० हजार पौधे लगाए जाएंगे। वन विभाग की पौधशालाएं इन दिनों पौधों से अटी है।
यहां ऐसे होगा पौधारोपण
वन विभाग सूत्रों के अनुसार पांच लाख चार हजार पौधे मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तहत विभिन्न प्लांटेशनों में लगाए जाएंगे वहीं विभिन्न योजनाओं के पेटे वन विभाग को प्राप्त प्रत्यावर्तित भूमि पर करीब पांच लाख पौधे लगाए जाएंगे। ६० हजार पौधे आमजन को वितरण का लक्ष्य रखा गया है तो वहीं पिछले साल से तैयार किए जा रहे पचास हजार पौधे आगामी वित्तीय वर्ष में लगाए जाएंगे।
वहीं सरकार की मंशा के मद्देनजर वन विभाग द्वारा इस बार सागवान को भी प्राथमिकता दी जा रही है। ऐसे में सागवान के करीब पचास हजार पौधे किशनगंज-शाहाबाद के प्लांटेशनों में लगाए जाएंगे। पूर्व वर्षों में जिले के इस क्षेत्र में सागवान के पेड़ों की बहुलता थी, लेकिन अब नाममात्र के पेड़ रह गए हैं। सागवान तस्करी की भेंट चढ़ गया।
आधे यहां से, आधे बाहर से
विभागीय सूत्रों के अनुसार जिले की पौधशालाओं में करीब पांच लाख पौधे तैयार किए गए हैं। इसके अलावा करीब पांच लाख पौधे बूंदी व अन्य नर्सरियों से मंगाए जाएंगे। इन्हें जिले की सभी दस रेंज क्षेत्र के प्लांटेशनों में रोपित किया जाएगा।
& -चालू वित्तीय वर्ष में करीब दस लाख पौध रोपण होना है। विभाग की ओर से तैयारियां की जा रही है। किशनगंज-शाहाबाद में इस बार सागवान के पचास हजार पौधे लगाए जाएंगे।
दीपक गुप्ता, सहायक वन संरक्षक बारां

Shivbhan Sharan Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned