अब सरकारी स्कूलों के कम्प्यूटर भी लगाएंगे दौड़ ,प्रति स्कूल 10  हजार रुपए मिलेंगे

अब सरकारी स्कूलों के कम्प्यूटर भी लगाएंगे दौड़ ,प्रति स्कूल 10  हजार रुपए मिलेंगे

Shiv Bhan Singh | Publish: Sep, 02 2018 04:43:28 PM (IST) Baran, Rajasthan, India

जिले के १६३ स्कूलों में लम्बे समय से कम्प्यूटर व लेपटॉप तो हैं लेकिन बजट नहीं होने से कनेक्शन नहीं हो पा रहे थे।

बारां. इंटरनेट की कमी से भंगार बन रहे सरकारी स्कूलों के कम्प्यूटर भी अब चलते नजर आएंगे। जिले के १६३ स्कूलों में लम्बे समय से कम्प्यूटर व लेपटॉप तो हैं लेकिन बजट नहीं होने से कनेक्शन नहीं हो पा रहे थे। ऐसे में संस्था प्रधान शाला दर्पण सहित अन्य पोर्टल पर रिपोर्ट डालते ही नहीं थे। ज्यादा दबाव आने पर स्वयं के डोंगल या फिर बाजार से रुपए खर्च करके रिपोर्ट डालते थे। कई बार समय पर काम नहीं होने से संस्था प्रधानों को अधिकारियों की नाराजगी तक झेलनी पड़ती थी।
माध्यमिक शिक्षा के अधीन जिले में 285 माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूल हैं। इसमें से 121 स्कूलों में ही आईसीटी लैब संचालित है। लैब में कम्प्यूटर के साथ-साथ इंटरनेट कनेक्शन भी है। लेकिन 163 स्कूलों में आईसीटी लैब नहीं है। एक या दो कम्प्यूटर तो लगे हैं। वह भी इन्टरनेट की कमी के चलते भंगार बने थे। संस्था प्रधानों के पास लैपटॉप भी हैं लेकिन इंटरनेट कनेक्शन नहीं होने से उनके लैपटॉप व कम्प्यूटर का पर्याप्त उपयोग नहीं हो पाता था। स्कूलों को अब एक टेलीकॉम कंपनी 10 हजार रुपए में सालभर के लिए मुफ्त इंटरनेट कनेक्शन देगी। कंपनी प्रति माह प्रति स्कूल को 65 जीबी 4 जी इंटरनेट देगी। यानि प्रतिदिन 2 जीबी इंटरनेट दिया जाएगा। उक्त इंटरनेट से प्रतिदिन स्कूलों के छोटे मोटे काम आसानी से हो जाएंगे। साल भर बाद स्कूलोंं को आगे भी इंटरनेट जारी रखने के लिए अलग से बजट दिया जाएगा। स्कूल प्रधान इन्टरनेट के साथ इस राशि को लैब के अन्य काम भी ले सकेंगे।
खातों में रुपए जमा
रमसा के अधिकारियों का कहना है कि इंटरनेट कनेक्शन कराने के लिए सभी स्कूलों के खातों में 10-10 हजार रुपए जमा करवा दिए हैं। एक या दो दिनों में कनेक्शन भी होना शुरू हो जाएंंगे। सभी स्कूलों में सितंबर माह के अंत तक कनेक्शन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
& 163 स्कूलों में इंटरनेट कनेक्शन कराने के लिए खातों में 10-10 हजार रुपए डलवा दिए हैं। एक या दो दिनों में कनेक्शन होना शुरू हो जाएंगे।
पवन मीणा, कार्यक्रम अधिकारी, रमसा, बारां

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned