बेबस हो गया आयुष चिकित्सालय व योग केन्द्र

बमोरीकलां . एक तरफ तो हमारी सरकारें इलाज के साथ साथ दवाएं भी मुफ्त में उपलब्ध करवाने की बात पर वाह वाही लूट रही है।

By: Mahesh

Published: 10 Mar 2019, 05:32 PM IST

बमोरीकलां . एक तरफ तो हमारी सरकारें इलाज के साथ साथ दवाएं भी मुफ्त में उपलब्ध करवाने की बात पर वाह वाही लूट रही है। लेकिन यहां के आयुष चिकित्सालय पर स्टाफ की कमी के साथ साथ दवाओं की कमी के चलते ग्रामीणों को समुचित इलाज नहीं मिल पा रहा है। विभाग द्वारा इस चिकित्सालय पर एक चिकित्सक व एक कंपाउडर लगा रखे हैं लेकिन पिछले माह राजनीतिक दबाव के चलते कंपाउंडर रजनीश पारीक को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र फ तेहपुर पर प्रतिनियुक्ति पर लगा देने से अव्यवस्था का आलम ओर अधिक देखने को मिल रहा है। इस प्रतिनियुक्ति के बाद आयुष चिकित्सक सरकारी कामकाज या फि र अवकाश पर रहने से चिकित्सालय पर ताला लटका नजर आता है। जबकि इस चिकित्सालय पर कस्बे सहित आस पास के गांवों सहित सीमावर्ती मध्यप्रदेश राज्य के गांवों के कई लोग अपना इलाज करवाने के लिए आते हैं। केंद्र पर कई बार ताला लगा होने से निराश होकर वापिस लौटना पड़ता है।
& दवाओं की कमी के बारे में कई बार उच्च अधिकारियों को अवगत करवा रखा है। जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी सम्पत राज नागर ने भी दवाओं की डिमांड विभाग से कर रखी है। आयुर्वेद कंपाउंडर की कमी के लिए नयी नियुक्ति करवा दी जाएगी।
भाग्य श्री मीणा, आयुष चिकित्सक

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned