चकमा देकर भाग छूटा पैंथर, लोगों में दहशत बरकरार

By: shailendra tiwari

Published: 15 Apr 2016, 11:55 PM IST

हरनावदाशाहजी (बारां). क्षेत्र में आधा दर्जन लोगों पर हमला करने वाले पैंथर को पकडऩे के लिए गुरुवार रात कोटा से यहां पहुंची रेस्क्यू टीम बेरंग लौट गई, शुक्रवार सुबह वन विभाग की टीम ने भी पैंथर के भाग जाने की बात कहकर पैंथर को पकडऩे के लिए मंगवाए पिंजरे को भी हटवाकर विभाग के स्थानीय कार्यालय में रखवा दिया।


लोगों का कहना था कि सुबह से ही पैंथर के हमले की घटना होने के बावजूद रेस्क्यू टीम 12 घंटे बाद मौके पर आई और वो भी बिना कोई कार्रवाई किए ही कुछ देर बाद लौट गई। कस्बे समेत आस-पास के गांवों के लोगों में पैंथर को लेकर भय बना हुआ है।


किए थे प्रयास

सहायक वन संरक्षक रणवीर सिंह भंडारी ने बताया कि दोपहर बाद पुलिस टीम पर हमले के बाद पैंथर एक बगीचे में छुपा हुआ था। दो दर्जन से अधिक वनकर्मियों के साथ पैंथर की घेराबंदी के लिए बगीचे के चारों ओर वनकर्मियों को तैनात कर चौकसी की गई। 


रात साढ़े आठ बजे कोटा से पिंजरा एवं रेस्क्यू टीम के चिकित्सक आदि पहुंच गए थे। लेकिन रात हो जाने के कारण कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। पिंजरा लगाकर पैंथर को पकडऩे का प्रयास भी किया, लेकिन नतीजा नहीं निकला। 


सुबह तक बगीचे में पैंथर के नहीं होने की सूचना के बाद पूरे बगीचे में तलाश की गई। उसके बाद पिंजरे को वहां से हटा कर सारथल नाका पर रखवा दिया। जबकि आधा दर्जन वन कर्मियों की टीम को पैंथर की तलाश के लिए तैनात कर दिया।

shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned