Impactful---कागजों में इतनी पड़ जाती है कि अव्यवस्था से मिठास गायब हो जाती है सरकारी चीनी की...

प्रत्येक राशन डीलर के हिस्से में अब नाममात्र की चीनी आ रही है। कई डीलरों को 1 से 4 किलो की मात्रा के हिसाब से आवंटन हुआ है।

By: Shivbhan Sharan Singh

Published: 15 Jan 2018, 03:58 PM IST

बारां. पात्र परिवार व मात्रा घटने से अब सरकारी चीनी का परिवहन व वितरण खाद्य विभाग को भारी पड़ रहा है, क्योंकि प्रत्येक राशन डीलर के हिस्से में अब नाममात्र की चीनी आ रही है। कई डीलरों को 1 से 4 किलो की मात्रा के हिसाब से आवंटन हुआ है। इतनी कम चीनी परिवहन के लिए विभाग ट्रक या अन्य गाड़ी भी नहीं भेज सकता है। न ही डीलर का गोदाम तक चीनी लेने आना संभव है। ऐसे में कई दिनों से चीनी गोदाम से बाहर नहीं निकल पा रही।
जिले में 593 राशन डीलर हैं। उक्त डीलरों को पात्र परिवारों को चीनी वितरण की भी जिम्मेदारी है। मार्च 2017 तक जिले के 67 हजार 988 बीपीएल व अन्त्योदय परिवारों को चीनी मिलती थी। प्रतिमाह 500 ग्राम चीनी प्रति सदस्य मिलती थी लेकिन मार्च के बाद चीनी का आवंटन आना बंद हो गया। अब खाद्य विभाग बीपीएल परिवारों को चीनी का पात्र नहीं मान रही है। यानि केवल 53 हजार 207 अन्त्योदय व सहरिया परिवारों को ही चीनी का वितरण होगा। यही नहीं उक्त परिवारों को भी प्रति राशन कार्ड मात्र एक किलो चीनी का वितरण होगा। ऐसे में चीनी के पात्र परिवार व मात्रा, दोनों घट गई है। मिलों से भी चीनी कम आ रही है।
कैसे निकले बाहर
उधर खाद्य विभाग ने नवम्बर में अन्त्योदय परिवारों को चीनी वितरण के लिए एक साथ 12 माह का आवंटन जारी कर दिया है। साथ ही 9 माह की चीनी गोदाम में पहुंच भी गई लेकिन प्रत्येक राशन डीलर के हिस्से में वितरण के लिए काफी कम चीनी आ रही है। कई डीलरों को प्रतिमाह 1 से 4 किलो आवंटन जारी हुआ है। अब खाद्य विभाग वितरण व परिवहन की योजना तैयार कर रहा है। इस संबंध में रसद विभाग को योजना तैयार होने तक चीनी वितरण नहीं करने के आदेश दिए हैं।
कीमत से ज्यादा परिवहन पर खर्च
अत: इतनी कम चीनी प्रत्येक डीलर तक पहुंचाना खाद्य विभाग के लिए मुसीबत बन गया हैं, क्योंकि थोड़ी-थोड़ी दुकानदारों तक पहुंचाने के लिए गाड़ी भी नहीं लगा सकते हैं। इससे चीनी की कीमत से ज्यादा परिवहन का खर्चा आ जाएगा न ही प्रत्येक डीलर का गोदाम से आकर चीनी लेकर जाना संभव है।
& -नौ माह की चीनी गोदामों तक पहुंच गई है। खाद्य विभाग परिवहन व वितरण की नीति तैयार कर रहा है। यह तैयार होते ही चीनी का वितरण शुरू कर दिया जाएगा।
हरलाल मीणा, कार्यवाहक जिला रसद अधिकारी, बारां

Shivbhan Sharan Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned