scriptso much fear of mafia that no one comes forward to complain | माफिया का इतना डर कि कोई शिकायत करने सामने नहीं आता | Patrika News

माफिया का इतना डर कि कोई शिकायत करने सामने नहीं आता

परवन में नहीं रुक रहा बजरी का बेरोकटोक अवैध खनन

बारां

Published: December 22, 2021 10:45:09 pm

अटरू. राजस्थान में अवैध बजरी खनन पर रोक होने के बावजूद भी उपखंड क्षेत्र के नदी-नालों में प्रशासन व पुलिस की उदासीनता के कारण माफियाओं के खिलाफ ठोस कार्रवाई नहीं करने के कारण अवैध बजरी का कारोबार बेरोकटोक चल रहा है। उपखंड क्षेत्र की परवन, पार्वती, अंन्डेरी सहित अन्य नदी व नालों में अवैध बजरी खनन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद भी अवैध बजरी खनन माफियाओं के खिलाफ प्रशासन, पुलिस व खनन विभाग द्वारा ठोस कार्रवाई नहीं की जाती।

ऐसे में बिना रोकटोक धड़ल्ले से बेखौफ होकर नदियों में बजरी का अवैध खनन कर रहे हैं।सूत्रों के अनुसार परवन नदी में मायथा के पास अदानी पावर प्लांट द्वारा एनिकट बनाया गया था। इसमें अवैध खनन बजरी माफिया द्वारा रीछन्दा गांव के समीप परवन नदी में नाव डाल कर बजरी निकाली जा रही है।नदी से लंबे अरसे से नौकाओं द्वारा रेत निकाल कर बेची जा रही है।अब तक प्रशासन व पुलिस ने ठोस कार्रवाई नहीं की है। परवन नदी पर खनन माफियाओं द्वारा गऊघाट से किरपुरिया, मोठूकुआं, रीछन्दा, बिछालस, मायथा, कुन्जेड सहित कई स्थानों पर कई वर्षों से लगातार नदी में बोर्ड डालकर, नाव डालकर, जेसीबी मशीन लगाकर बजरी का अवैध खनन किया जाता है। इन स्थानों पर प्रशासन व पुलिस द्वारा कभी कभी कार्रवाई करने से इनके हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि यह लोग अवैध खनन करने से नहीं मानते हैं। अगर इनके खिलाफ खनन विभाग पुलिस व प्रशासन द्वारा ठोस कार्रवाई की जाती तो यह खेल बंद हो जाता ।

कमा रहे मोटा मुनाफा
परवन नदी से बजरी का अवैध खनन करने वाले माफिया अवैध बजरी बेचकर इतना मोटा मुनाफा कमा रहे हैं। माफिया से लोग डरते हैं कि शिकायत करने के लिए कोई सामने नहीं आता। संरक्षण के चलते इन पर तंत्र भी ठोस कार्रवाई नहीं करता है। परवन, पार्वती व अंधेरी नदी से अवैध बजरी लाकर देर रात या तड़के 4 या 5 बजे के लगभग ट्रैक्टरों द्वारा परिवहन कर मोटा मुनाफा कमाया जाता है। ये वाहन रात के समय उपखंड कार्यालय तहसील कार्यालय सहित मुख्य बाजार में होते हुए अवैध बजरी का परिवहन करते हैं।
माफिया का इतना डर कि कोई शिकायत करने सामने नहीं आता
माफिया का इतना डर कि कोई शिकायत करने सामने नहीं आता
यह लोग चुनाव होने का फायदा उठा रहे हैं। चुनाव के बाद इनके खिलाफ संयुक्त कार्रवाई का अभियान चलाया जाएगा।
श्योजी लाल मीणा, पुलिस उपाधीक्षक

अवैध बजरी खनन माफियाओं के खिलाफ शीघ्र ही ठोस कार्रवाई की जाएगी।
अशोक, खनिज सहायक अभियंता

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.