baran--किसानों ने लगाया मंडी गेट पर ताला , तुलाई बंद होने से धरने पर बैठे

धरने के कारण उपज लेकर आई दर्जनों ट्रोलियां बाहर ही खड़ी रही।

By: Shivbhan Sharan Singh

Published: 25 Apr 2018, 05:59 PM IST


अन्ता. यहां संचालित सरकारी खरीद केन्द्र पर हो रही अव्यवस्था को लेकर किसानों का आक्रोश मंगलवार को भड़क गया। ऐसे में कृषकों ने मंडी के मुख्य द्वार पर ताला लगाने के बाद वहीं धरना शुरू कर दिया। प्रात: ११.३० बजे शुरू हुए इस धरने के कारण उपज लेकर आई दर्जनों ट्रोलियां बाहर ही खड़ी रही। जिस कारण आढ़तियों द्वारा खुले में की जा रही खरीद भी प्रभावित हुई। बाद में दोपहर तीन बजे नायब तहसीलदार की समझाइश पर किसानों ने मंडी का गेट खोला। उपज लेकर यहां आए कई किसानों ने बताया कि वह कई दिनों से माल लेकर आ रहे हैं, लेकिन सरकारी खरीद नहीं हो पा रही। बमूलिया कला के केल कंवर, छत्रपुरा के घांसीलाल मीणा, रामरतन मीणा, पापड़ली के बद्रीलाल मीणा, छीपाबड़ोद के बृजमोहन धाकड़ आदि ने बताया कि उन्हें चना तथा सरसों की तुलाई के लिए २१ मार्च से ही बुलाया जा रहा है। मोबाइल पर बार बार तारीख बदल जाने का संदेश आता है, लेकिन यहां आने पर उपज की तुलाई नहीं होती। ऐसे में कई बार आने जाने का किराया लगाने के बाद भी निराशा हाथ लग रही है। किसानों के अनुसार उनकी परेशानी का हल नहीं निकल रहा जबकि कई लोगों का माल पिछले दरवाजे से तुल रहा है। यहां तक कि सोमवार को खरीद बंद की घोषणा के बावजूद मिलीभगत से चार ट्रॉली चना तौला गया। ऐसे में पूरे जिले से यहां आ रहे किसान आक्रोशित हैं।
व्यवस्था बे-पटरी
उल्लेखनीय है कि पहले खरीदे गए माल का उठाव न होने की वजह से सरकारी खरीद केन्द्र पर सोमवार से ही तौल कार्य बंद है। मंगलवार प्रात: तुलाई का आश्वासन मिलने पर किसान उपज लेकर आ गए, लेकिन इस दिन भी तुलाई बंद की बात सुुनकर किसान भड़क गए एवं कृषि उपज मंडी का प्रवेश द्वार बंद कर धरना शुरू कर दिया। बाद में वहां पहुंचे नायब तहसीलदार से भी किसानों को आश्वासन के सिवा कुछ नहीं मिला। ऐसे में अब क्षेत्र के किसान संगठित होकर बड़़े प्रदर्शन की तैयारी में हैं। विदित रहे कि सरकारी केन्द्र पर एक माह से बंद चने एवं सरसों की तुलाई राजफैड की प्रबंध निदेशक द्वारा दौरा करने के बाद एक सप्ताह पूर्व ही शुरू की गई थी, लेकिन इन सात दिनों मेें ही व्यवस्था फिर पटरी से उतर गई।

Shivbhan Sharan Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned