मानसून के पहले आई बरखा की बहार

DILIP VANVANI | Updated: 14 Jun 2019, 10:56:18 AM (IST) Baran, Baran, Rajasthan, India

जेठ की भीषण गर्मी से तपती बारां की धरा गुरूवार को खुशनुमा हो गई। हल्की बारिश और आंधी से जहां ठंड़ी हवाएं चली वहीं लोगों को उमस से राहत भी मिली। मानसून पूर्व हुई इस बारिश को लेकर किसानों में अच्छी फसल की उम्मीद बनी है।

बारां. जेठ की भीषण गर्मी से तपती बारां की धरा गुरूवार को खुशनुमा हो गई। हल्की बारिश और आंधी से जहां ठंड़ी हवाएं चली वहीं लोगों को उमस से राहत भी मिली। मानसून पूर्व हुई इस बारिश को लेकर किसानों में अच्छी फसल की उम्मीद बनी है। किसान इस बारिश को खेतों के लिए अमृत समान मानते हैं। जिले भर में मौसम का मिजाज बुधवार रात ही बदल गया था।

कई जगह बुधवार देर रात हल्की बारिश हुई। गुरूवार को सुबह बादल छाए रहे । तापमान में भी भारी गिरावट दर्ज की गई। 45 डिग्री से लुढ़ककर तापमान 37 डिग्री पर आ पहुंचा। बादल छाए रहने से हालांकि तापमान लोगों को 41 डिग्री जैसा महसूस होता रहा। रात के तापमान में भी तीन डिग्री की गिरावट आई है। दो दिन पहले तक 33 से 34 डिग्री तापमान 30 डिग्री पर आ गया है।कवाई, नाहरगढ़, पलायथा, गऊघाट,भंवरगढ़, शाहाबाद,देवरी, जलवाड़ा, कवाई, छबड़ा सभी स्थानों पर बूंदाबांदी तो कहीं हल्की बारिश दर्ज की गई। इसी तरह से कवाई, नाहरगढ़, पलायथा, गऊघाट, जलवाड़ा कस्बे सहित क्षेत्र में गुरूवार को तेज हवा व मेघ गर्जना के साथ बरसात शुरू हो गई इससे सड़कें भीग गई ओर छतों से पानी टपकने लगा ।
नाहरगढ़. क्षेत्र में 20 मिनट ही बारिश हुई है। अंधड से टीन टप्पर उड़ गए तो कुछ पेड़ भी टूट गए। बारिश से भी लोगों के कवेलूपोश मकानों में पानी टपक गया। गऊघाट के बिछालस, कटावर, सकतपुर मोठपुर, में एक घंटे तक बारिश हुई।
भंवरगढ़/ समरानिया. कस्बे में बुधवार देर रात 3 बजे मामूली बूंदाबांदी का दौर शुरू हुआ जो आधे घंटे तक जारी रहा।करीब 2 घण्टे तक बारिश हुई ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned