आदेश आने में बीता एक दिन, अब दो दिन ही होगी बकाया जिंस की तुलाई जिंस की तुलाई नहीं होने से भड़के किसान

Shivbhan Sharan Singh

Publish: Apr, 17 2018 08:10:33 PM (IST)

Baran, Rajasthan, India
आदेश आने में बीता एक दिन, अब दो दिन ही होगी बकाया जिंस की तुलाई  जिंस की तुलाई नहीं होने से भड़के किसान

चना व सरसों के खरीद केन्द्रों पर जिंस खरीद की मात्रा को लेकर आए नए आदेश के बाद असमंजस की स्थिति बन गई।

बारां. जिले में राजफैड की ओर से बारां मार्केटिंग सोसायटी के माध्यम से संचालित चना व सरसों के खरीद केन्द्रों पर जिंस खरीद की मात्रा को लेकर आए नए आदेश के बाद असमंजस की स्थिति बन गई। इसे लेकर स्थानीय स्तर से भी उच्चाधिकारियों से मार्गदर्शन मांगा गया। इस बीच सोमवार को खरीद केन्द्र पर पहुंचे एक दर्जन से अधिक किसान जिनका काफी माल तीन दिन पहले तुल गया था, वह शेष अब तुलना था, उनके माल की सोमवार को तुलाई नहीं होने से भड़क गए व हंगामा कर दिया। स्थिति स्पष्ट नहीं होने से इनके माल की तुलाई नहीं हो पाई, लेकिन सोमवार शाम एक और आदेश आया। इसके अनुसार ऐसे पुराने किसान बकाया माल की तुलाई १६, १७ व १८ अप्रेल को करवा सकते हैं। आदेश शाम को आए, ऐसे में १६ अप्रेल का दिन तो निकल ही गया।
ऐसे बना असमंजस
आदेश तो आ गए लेकिन इसमें यह कहीं स्पष्ट नहीं हो रहा कि पहले की निर्धारित ५० क्विंटल तक की खरीद को घटाकर अब कुल ४० क्विंटल कर दिया गया है या नहीं या एक दिन में ४० क्विंटल तुलाई के बाद शेष १० क्विंटल अगले दिन तुलेगा या नहीं।
इसके अलावा पूर्व के कई किसान जो गत दिनों ५० क्विंटल तक की सीमा के तहत काफी माल बेच गए व शेष आगे बेचना था, उनका क्या होगा क्योंकि सोमवार को ऐसे बकाया तुलाई वाले कई किसान माल लेकर आए तो कम्प्यूटर में अब उनका नाम ही नहीं खुल रहा। स्थानीय स्तर पर भी असमंजस की स्थिति बनने के बाद ऊपर मार्गदर्शन मांगा गया है।
& -राजफैड की ओर से शनिवार को आदेश आए। इसके तहत अब एक दिन में अधिकतम ४० क्विंटल की खरीद की जा सकेगी। पुराने वाले किसान जिनका काफी माल तुलने केे बाद शेष की तुलाई होनी है, वे १८ अप्रेल तक शेष माल की तुलाई करवा सकते हैं, लेकिन उनके लिए भी कुल खरीद सीमा ४० क्विंटल के अनुसार ही होगी।
सौमित्र मंगल , महाप्रबंधक, बारां क्रय-विक्रय सहकारी समिति

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned