scriptThere are many opportunities for water, land, agriculture and tourism, | यहां जल, जमीन, खेती व पर्यटन के बेहत अवसर हैं, फिर जिला पिछड़ा क्यों? | Patrika News

यहां जल, जमीन, खेती व पर्यटन के बेहत अवसर हैं, फिर जिला पिछड़ा क्यों?

इनवेस्ट समिट में प्रभारी मंत्री गुढा ने अधिकारियों को दिए सीएम की घोषणाओं के अमल के निर्देश

बारां

Published: January 12, 2022 03:17:45 pm

बारां. जिले में प्रभारी मंत्री राजेन्द्र गुढा ने कहा कि बारां जिले में काफी जमीन, पानी, खेती में विविधता और पर्यटन के बेशुमार अवसर हैं, फिर भी यह जिला पिछड़ा क्यों है। यह चिन्ता का विषय है। यहां के हलातों से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अवगत करा जिले के सर्वांगीण विकास के पूरे प्रयास किए जाएंगे।
प्रभारी मंत्री गुढा ने यह बात यहां कोटा रोड स्थित एक रिसोर्ट में बुधवार दोपहर आयोजित इन्वेस्टमेंट समिट 2022 में बतौर मुख्य अतिथि कही। उन्होंने कहा कि पाली जिले के सुमेरपुर व सवाईमाधोपुर जिले के रणथम्भौर में पैंथर व टइगर सफारी से विकास के नए आयाम बन रहे हैं। इनकी शुरुआत पहले जागरूक लोगों ने की थी। इसके बाद सरकार ने इस पर्यटन को टेक ओवर कर रोजगार व विकास के द्वार खोल दिए। सुमेरपुर में तो एक गांव के लोगों ने पैंथर सफारी के लिए निजी वाहनों के साथ पर्यटकों के रुकने, खाने व पीने के प्रबंध कर हजारों डालर कमा रहे हैं। ऐसे में बारां जिले में प्राकृतिक रूप से उपलब्ध संसाधनों खासकर पानी की सदुपयोग हो तो जिला बुहत आगे जा सकते हैं। प्रदेश में युवा सरकारी नौकरियों के पीछे भाग रहे हैं। पटवारी भी भर्ती के लिए 15 लाख व शिक्षक की भर्ती के लिए 28 खाख युवा प्रतियोगी परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। ऐसे में हमें रोजगार के लिए जिले में ही उद्योगों की स्थापना कर विशेष प्रयास करने होंगे।
गुजरात मॉडल से आगे मारवाड़ी
प्रदेश के मारवाड़ क्षेत्र के लोग नागालैंड, सिकिक्म, असम, पंगाल समेत देश के पूर्वोत्तर राज्यों में पहुंच अपने कारोबार के बूते अपनी पहचान बना रहे है। जबकि देश में गुजरात मॉडल की तारीफ होती है। गुजरात के अधिकारी इस मामले में काफी आगे हैं। जिले के अधिकारियों को भी यहां की पहचान बनाने के लिए मार्केटिंग करनी चाहिए। वे अब प्रतिमाह जिले में आकर रोजगार सृजन की योजनाओं की मॉनिटरिंग करेंगे। समिट में अतिथि के रूप में किशनगंज विधायक निर्मला सहरिया, जिला प्रमुख उर्मिला जैन, जिला कलक्टर राजेन्द्र विजय, पुलिस अधीक्षक कल्याणमल मीना, बीसूका अध्यक्ष रामचरण मीणा, नगर परिषद की सभापति ज्योति पारस व समाजसेवी ओम सिंह मंचासीन रहे।
स्थानीय उद्यमी आए आगे
जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक ताराचंद जैन ने बताया कि समिट में स्थानीय व्यापारियों ने 715 करोड़ के 16 एमओयू व आईएलओ किए गए। इससे लगभग 2800 युवाओं को रोजगार मिलेगा।

यहां जल, जमीन, खेती व पर्यटन के बेहत अवसर हैं, फिर जिला पिछड़ा क्यों?
यहां जल, जमीन, खेती व पर्यटन के बेहत अवसर हैं, फिर जिला पिछड़ा क्यों?

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगाHowrah Superfast- हावड़ा सुपरफास्ट से यात्रा करने वाले यात्रियों को परिवर्तित मार्ग से करना पड़ेगा सफर, इन स्टेशनों पर नहीं जाएगी ट्रेनपूर्व केंद्रीय मंत्री की भाजपा में वापसी की चर्चाएं, सोशल मीडिया पर फोटो से गरमाई सियासतTrain Reservation- अब रेल यात्रियों के पांच वर्ष से छोटे बच्चों के लिए भी होगी सीट रिजर्व, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.