फर्जी कॉल से ठगी करने वाले अब पुलिस अफसर बन थानों में ही  करने लगे हैं कॉल

फर्जी कॉल से ठगी करने वाले अब पुलिस अफसर बन थानों में ही  करने लगे हैं कॉल

Shivbhan Sharan Singh | Publish: Feb, 15 2018 05:00:54 PM (IST) Baran, Rajasthan, India

छबड़ा. फर्जी कॉल से ठगी करने वाले अब पुलिस अफसर बन कर थानों में ही कॉल करने लगे हैं। जिससे पुलिस भी सकते में है

छबड़ा. फर्जी कॉल से ठगी करने वाले अब पुलिस अफसर बन कर थानों में ही कॉल करने लगे हैं। जिससे पुलिस भी सकते में है। यहां के पेट्रोल पंप व्यवसायी एजाज फारूकी ने बताया कि मंगलवार को उनके पेट्रोल पंप पर छबड़ा थाने के एएसआई संपत राज आए तथा कहा कि एडीशनल एसपी का फोन आया है और आप से अर्जेट बात कराने को कहा है। उन्होंने एएसआई द्वारा दिए नंबर पर बात की तो कथित एडीशनल एसपी श्रीवास्तव ने एक खाता नंबर सेंड कर कहा कि इस खाते में तुरंत 25 हजार रुपए डलवा दें, बहुत आवश्यक है। वह समझ नहीं पाए कौन अफसर है और खाते में रुपए डालने की कह रहा है। फिर फोन आने पर फारूकी रुपए लेकर बैंक में जमा कराने के लिए पहुंच गए, उन्हें फर्जी कॉल का आभास होने पर बैंक में भीड़ व सर्वर डाउन होने का बहाना बना कर बैंक का समय समाप्त होने तक टालते रहे। इस बीच पुलिस द्वारा थाने में कॉल डिटेल की जांच करवाई गई तो उक्त नंबर एडीशनल एसपी के नाम से लिया हुआ था व खाता नंबर शाहपुरा के किसी बच्चे छोटू लाल मीणा के नाम का था। जांच में कॉल फर्जी निकली तथा वह 25 हजार रुपए की ठगी होने से बच गए। एएसआई संपत राज ने बताया कि जिस तरह से उनके पास फोन आया वह भी अफसर समझ कर घबरा गए। उसने कहा कि मैं एडीशनल एसपी बोल रहा हूं और नजदीकी पेट्रोल पंप मालिक से मेरी तुरंत बात कराओ। फारुकी से उनकी पहचान थी और इनका पंप थाने के नजदीक होने से वह पहले यहीं पहुंचे। इस मामले में फारूकी ने भी कोई कार्रवाई नहीं की। एएसआई ने फर्जी कॉल से बैंक उपभोक्ताओं को सतर्क रहने को कहा है।
बारां. आमापुरा क्षेत्र में मंगलवार रात एक युवक ने शराब के नशे मेें पत्नी से मारपीट कर घायल कर दिया। उसे जिला चिकित्सालय भर्ती कराया गया। कोतवाली पुलिस ने बताया कि आरोपित महेन्द्र बैरवा मंगलवार रात शराब के नशे में घर पहुंचा तथा और शराब पीने के लिए पत्नी इन्दिराबाई से पैसे मांगने लगा। इसी बात को लेकर कहासुनी हो गई तथा पत्नी ने शराब पीने के लिए पैसे देने से मना कर दिया तो उससे मारपीट कर दी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned