हीकड़दह के लबालब होने के बाद भी नहीं बुझ रही प्यास ,शहर में हजारों घरों में नहीं टपके नल

‘www.patrika.com/rajasthan-news‘

By: Shivbhan Sharan Singh

Published: 20 Jul 2018, 05:53 PM IST

राइजिंग लाइन टूटने से कई क्षेत्रों में नहीं हुई जलापूर्ति
बारां. करीब २६ दिन तक पेयजल किल्लत से जूझे शहर की पेयजल आपूर्ति का मुख्य स्रोत्र पार्वती नदी का हीकड़दह गत १२ जुलाई को लबालब हो गया था, इसके बावजूद बारिश के दौर में यहां के बाशिंदों की प्यास नहीं बुझ रही। अब जलापूर्ति लाइनों के टूटने, लाइनों में रिसाव होने तथा टंकियों में कम भराव होने की समस्या आना शुरू हो गया। शहर में स्टेशन रोड श्रीराम स्टेडियम से होते हुए जैन कॉलोनी टंकी तक आ रही राइजिंग लाइन बुधवार को टूट गई थी। इससे टंकी नहीं भरी तो जैन कॉलोनी टंकी से जुड़ी आधा दर्जन से अधिक कॉलोनियों के हजारों लोगों को बुधवार शाम के अलावा गुरुवार सुबह व शाम को भी पानी नहीं मिला। वहीं सब्जी मंडी टंकी में कम भराव हुआ तो उससे जुड़ी दर्जनभर कॉलोनियों में गुरुवार सुबह आंशिक जलापूर्ति हुई। ऐसे में हजारों परिवारों को प्यास बुझाने के लिए पेयजल का जुगाड़ करने में खासी मशक्कत करनी पड़ी।
छात्राओं को हुई परेशानी
बुधवार को लाइन टूटी तो श्रीराम स्टेडियम में पानी भर गया। स्टेडियम में कीचड़ हो गया। इससे वहां स्थित राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं को फिसलन होने से संभलकर गुजरना पड़ा। कुछ छात्राओं के कीचड़ के छींटे लगने से कपड़े खराब हो गए। स्टेडियम में पानी से गढ्डा भर गया तो गुरुवार सुबह स्टेडियम पहुंचे खिलाड़ी भी चकित रह गए।
मेहता गए, शर्मा आए
विभाग की ओर से गर्मी के दिनों में शहर में व्यवस्थार्थ लगाए गए छबड़ा के एईएन डालूराम मेहता को हीकड़दह में पानी आने के बाद वापस छबड़ा भेज दिया।
पूर्व में यहां पदस्थापित एईएन निरंजन शर्मा ने वापस कार्य संभाल लिया। उदयपुर से यहां पदस्थापित किए गए एईएन शर्मा ने यूं तो पहले ही ज्वाइन कर लिया था, लेकिन वह अवकाश पर चले गए थे। इससे मेहता को अतिरिक्त चार्ज दिया गया था।
& श्रीराम स्टेडियम में राइजिंग लाइन टूटने से जलापूर्ति प्रभावित हो गई थी। इसके चलते गुरुवार को जैन कॉलोनी की टंकी नहीं भरी गई तो शाम की आपूर्ति भी प्रभावित रही। शाम तक लाइन दुरुस्त करा दी गई थी। अब शुक्रवार से जलापूर्ति सुचारू होगी।
गोपेश गर्ग, अधीक्षण अभियंता, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग

Shivbhan Sharan Singh
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned