scriptये तो कमाल हो गया : 36 किमी में 11 केवी लाइन के तार कब चोरी हो गए, पता नहीं…! | wire of 11 kv line theften by theif | Patrika News
बारां

ये तो कमाल हो गया : 36 किमी में 11 केवी लाइन के तार कब चोरी हो गए, पता नहीं…!

जयपुर डिस्कॉम के हरनावदाशाहजी उपखंड क्षेत्र में करीब एक दर्जन से अधिक गांवों में पिछले कई बरसों से थ्री फेस बिजली नही पंहुच रही है। ऐसे में ङ्क्षसचाई से लेकर अन्य परेशानियों से जूझ रहे ग्रामीणों द्वारा गत दिनों जनसुनवाई करने पंहुचे जिला कलक्टर को अवगत कराने के बाद बिजली महकमा हरकत में आया और पुलिस थाने में 36 किलोमीटर लम्बी विद्युत लाइन के दो तार करीब दस साल पहले चोरी चले जाने की रिपोर्ट हरनावदाशाहजी पुलिस थाने में दी है।

बारांJul 09, 2024 / 11:40 pm

mukesh gour

जयपुर डिस्कॉम के हरनावदाशाहजी उपखंड क्षेत्र में करीब एक दर्जन से अधिक गांवों में पिछले कई बरसों से थ्री फेस बिजली नही पंहुच रही है। ऐसे में ङ्क्षसचाई से लेकर अन्य परेशानियों से जूझ रहे ग्रामीणों द्वारा गत दिनों जनसुनवाई करने पंहुचे जिला कलक्टर को अवगत कराने के बाद बिजली महकमा हरकत में आया और पुलिस थाने में 36 किलोमीटर लम्बी विद्युत लाइन के दो तार करीब दस साल पहले चोरी चले जाने की रिपोर्ट हरनावदाशाहजी पुलिस थाने में दी है।

जयपुर डिस्कॉम के हरनावदाशाहजी उपखंड क्षेत्र में करीब एक दर्जन से अधिक गांवों में पिछले कई बरसों से थ्री फेस बिजली नही पंहुच रही है। ऐसे में ङ्क्षसचाई से लेकर अन्य परेशानियों से जूझ रहे ग्रामीणों द्वारा गत दिनों जनसुनवाई करने पंहुचे जिला कलक्टर को अवगत कराने के बाद बिजली महकमा हरकत में आया और […]

एक दशक से दर्जनों गांवों की आपूर्ति सिंगल फेस के भरोसे

हरनावदाशाहजी. जयपुर डिस्कॉम के हरनावदाशाहजी उपखंड क्षेत्र में करीब एक दर्जन से अधिक गांवों में पिछले कई बरसों से थ्री फेस बिजली नही पंहुच रही है। ऐसे में सिंचाई से लेकर अन्य परेशानियों से जूझ रहे ग्रामीणों द्वारा गत दिनों जनसुनवाई करने पंहुचे जिला कलक्टर को अवगत कराने के बाद बिजली महकमा हरकत में आया और पुलिस थाने में 36 किलोमीटर लम्बी विद्युत लाइन के दो तार करीब दस साल पहले चोरी चले जाने की रिपोर्ट हरनावदाशाहजी पुलिस थाने में दी है।
जानकारी के अनुसार क्षेत्र के झनझनी से लेकर चक, बिसलाई, सूर्डी बेह, सहजनपुर, बेजाजपुर, कोटडी, सूरजपुरा समेत एक दर्जन से अधिक गांवों को जोड़ती 11 केवी विद्युत लाईन के तार चोरी चले जाने के कारण इन गांवों में बरसों से सिंगल फेस बिजली ही पहुंच रही है। ऐसे में लोग ङ्क्षसगल फेस बिजली से चलने वाले उपकरणों पर ही निर्भर हैं। बेजाजपुर निवासी रामनिवास ने बताया कि आटा चक्की समेत अन्य उपकरण ङ्क्षसगल फेस के ही चलाने पड रहे हैं। जबकि कृषि कार्य ङ्क्षसचाई के लिए भी यही हाल रहता है। यहां तक कि ङ्क्षसगल फेस सप्लाई भी कम वोल्टेज के साथ होने से बहुत परेशान हो रहे हैं। लेकिन बिजली विभाग ने अब तक इस पर कोई ध्यान नहीं दिया। गत माह क्षेत्र में पहली बार पहुंचे बारां जिला कलक्टर को ग्रामीणों ने यह परेशानी बताई थी। उसके बाद बिजली विभाग नींद से जागा और अब पुलिस थाने में इस लाइन के तार चोरी जाने की रिपोर्ट दी है।
पहले ही गायब थे तार

जयपुर डिस्कॉम कनिष्ठ अभियंता ललित सोनी का कहना है कि हमारे यहां आने से पहले से ही तार गायब है। हमने जैसा देखा वैसा चल रहा था। लेकिन अब उधर से लोगों की थ्री फेस की डिमांड आई है तो करीब दस साल पहले तार चोरी चले जाने की रिपोर्ट पुलिस थाने में दी है।
रिपोर्ट में बताया गया है कि आंधी-तूफान से टूटने के बाद तार चोरी चले गए। लेकिन बिजली लाइन तार की चोरी का मामला कब का तथा कितने साल पहले का है। इसकी जानकारी बिजली विभाग को भी नहीं है। इसलिए फिलहाल मामले को जांच में लिया गया है।
गिर्राज, थानाधिकारी

Hindi News/ Baran / ये तो कमाल हो गया : 36 किमी में 11 केवी लाइन के तार कब चोरी हो गए, पता नहीं…!

ट्रेंडिंग वीडियो