यूपी बोर्ड में अब नहीं मिलेगी फर्जी छात्रों को एंट्री 

बोर्ड ने नकल माफियाओं पर नकेल कसने के लिए की तैयारी।

By: suchita mishra

Published: 23 May 2017, 01:28 PM IST

बरेली। यूपी बोर्ड ने अब नकल माफिया पर नकेल कसने की तैयारी कर ली है। इसके साथ ही बोर्ड वजीफे की हेरफेर रोकने के लिए भी तैयारी कर चुका है। आगामी सत्र से दसवीं और बारहवीं की बोर्ड की प​रीक्षा में शामिल होने के लिए छात्र के पास आधार कार्ड होना जरूरी होगा। बरेली में इस नियम को लागू करने की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। 

दरअसल नकल माफिया बड़ी मात्रा में फर्जी फॉर्म भरकर फर्जी छात्रों की एंट्री करा देते हैं। कई बार नाम किसी का होता है और परीक्षा कोई अन्य छात्र दे रहा होता है। इसी तरह से बल्क में फर्जी छात्रों के रजिस्ट्रेशन कराकर वजीफे का भी फर्जीवाड़ा किया जाता है। इस फर्जीवाड़े पर लगाम कसने के लिए बोर्ड अब परीक्षा के फॉर्म को आधारकार्ड से लिंक करने जा रहा है। यह नियम कक्षा नौ से बारह तक के छात्रों के लिए लागू होगा। 

देखें वीडियो



इस नियम के तहत छात्रों को आॅनलाइन फॉर्म भरना होगा साथ ही इसमें आधार और स्कूल के यूडीआईएसई नंबर को जोड़ना होगा। इसके बिना फॉर्म कैंसिल हो जाएगा। इसको लेकर कॉलेजों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। जेडीई शिव प्रकाश द्विवेदी ने बताया कि जिन छात्रों के पास आधार कार्ड नहीं है, वे इसे तुरंत बनवा लें। आपको बता दें कि पहले यह नियम सिर्फ 10वीं और 12वीं के लिए लागू किया गया था। अब इसे 9वीं और 11वीं के रजिस्ट्रेशन में भी लागू कर दिया गया है। 


Show More
suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned