VIDEO : मेनका गांधी के कार्यक्रम में फेंकी गईं कुर्सियां, पुलिस से झड़प

विरोध करने वालों ने कहा कि मेनका गांधी ने क्षेत्र का कोई विकास नहीं किया है। केवल चुनाव के वक्त बहेड़ी की याद आती है।

By: मुकेश कुमार

Published: 18 Aug 2017, 04:00 PM IST

बरेली। अपने संसदीय क्षेत्र में विधानसभा बहेड़ी का दौरा करने आईं केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी को विरोध का सामना करना पड़ा। कुछ भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका जमकर विरोध किया। इस बीच विरोध करने वालों और पुलिस के दरम्यान तीखी झड़प के साथ साथ धक्का-मुक्की भी हुई। इस दौरान गुस्साए लोगों ने कुर्सियां भी फेंकी।

अफसरों से ली जानकारी
केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी शुक्रवार सुबह पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस पहुंचीं। यहां डीएम सहित जिले के अधिकारियों से क्षेत्र की समस्याओं पर बात की। साथ ही क्षेत्र की बदहाल सड़कों के बारे में बात कर जरूरी निर्देश दिए। इसके बाद वो बहेड़ी के सरकारी अस्पताल पहुंचीं। जहां उन्होंने पौधारोपण में हिस्सा लिया और डॉक्टरों से अस्पताल में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी ली।

मेनका के विरोध में नारेबाजी
अस्पताल के बाद केंद्रीय मंत्री गौंटिया सिंह मोड़ पर नदेली रोड का लोकार्पण करने पहुंचीं। इसी बीच वहां दर्जनों की संख्या में तथाकथित भाजपा कार्यकर्ताओं ने नारेबाज़ी कर केंद्रीय मंत्री का ज़बरदस्त विरोध किया। इस दौरान पुलिस और नारेबाज़ी करने वालों के बीच तीखी झड़प हो गई। प्रदर्शनकारियों ने पंडाल में लगी कुर्सियां भी उठा कर फेंकी। किसी तरह से पुलिस ने प्रदर्शन करने वालों पर काबू पाया।

विकास न कराने का आरोप
विरोध करने वालों का कहना है कि मेनका गांधी ने क्षेत्र का कोई विकास नहीं किया है। केवल चुनाव के वक्त बहेड़ी की याद उनको आती है। इसके अलावा नहीं हम लोग दिल्ली गए तो घंटों इंतजार के बाद भी मिली नहीं। उन्होंने कहा कि हम पार्टी के साथ हैं लेकिन मेनका गांधी के साथ नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मेनका गांधी यहां आई लेकिन संगठन के लोगों को जानकारी नहीं दी गयी। भाजपा जिलाध्यक्ष रविन्द्र सिंह राठौर ने सांसद एवं केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी का विरोध करने वालो को भाजपा से कोई मतलब नहीं होने की बात कही है।

मुकेश कुमार
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned