Exit poll 2019 यूपी के रुहेलखंड में इन प्रत्याशियों की जीत पक्की

Exit poll 2019 यूपी के रुहेलखंड में इन प्रत्याशियों की जीत पक्की

Amit Sharma | Updated: 20 May 2019, 06:22:53 AM (IST) Bareilly, Bareilly, Uttar Pradesh, India

लोकसभा चुनाव 2019 के एग्जिट पोल
Exit Poll के नतीजे आए सामने
Exit Poll में इन कैंडीडेट की जीत पक्की

बरेली। लोकसभा चुनाव 2019 की आखिरी चरण आज पूरा हो गया। इसके साथ ही नई सरकार को लेकर चर्चा गरम है। हर कोई जानना चाहता है कि भारत का अगला प्रधानमंत्री कौन बनेगा। साथ ही यह भी जानना चाहता है कि किस सीट से कौन जीतेगा। रुलेहखंड की बात करें कि इसमें चार लोकसभा सीटें आती हैं। बरेली और पीलीभीत सीट वीआईपी श्रेणी में है। आइए जानते हैं कि किस सीट पर कौन चुनाव जीत रहा है।

बरेली लोकसभा सीट
भाजपा प्रत्याशी संतोष गंगवार मोदी सरकार में मंत्री हैं। चुनाव के दौरान उनका विरोध भी हुआ। उनकी छवि स्वच्छ है और हर कोई उन तक पहुंच सकता है। इसके बाद भी गठबंधन की ओर से समाजवादी पार्टी के भगवत शरण गंगवार कांटे की टक्कर दी है। इस सीट पर मोदी फैक्टर प्रभावी है। इससे पलड़ा संतोष गंगवार का भारी लग रहा है।

आंवला सीट
आंवला सीट पर भाजपा ने अपने सांसद धर्मेन्द्र कश्यप पर फिर भरोसा जताकर प्रत्याशी बनाया। कांग्रेस के सर्वराज सिंह और बसपा की रुचि वीरा हैं। प्रथम दृष्टया यहां बसपा और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला है। इस सीट पर अभी कुछ स्पष्ट नहीं है।

शाहजहांपुर
यहां से सांसद हैं केन्द्रीय मंत्री कृष्णा राज। भाजपा ने उनका टिकट काटकर अरुण सागर को प्रत्याशी बनाया। उन्हें गठबंधन की ओर से बसपा के अमरचंद जौहर ने कांटे की टक्कर दी है। कम मार्जिन से जीत हार होगी। बसपा का पलड़ा भारी है।

पीलीभीत
पीलीभीत लोकसभा सीट से सांसद हैं केन्द्रीय मंत्री मेनक गांधी। इस बार उनके पुत्र और सुल्तानपुर से सांसद वरुण गांधी को भाजपा ने टिकट दिया। गांधी परिवार की यह परंपरागत सीट है। उन्हें अभी तक कोई हरा नहीं पाया है। भाजपा के साथ-साथ वरुण ने चुनाव में अपना प्रबंधन गजब का किया है। सपा के हेमराज से सीधी टक्कर है। जीत का अंतर अधिक नहीं रहने वाला। वरुण गांधी का पलड़ा भारी है।

बदायूं लोकसभा सीट
बदायूं लोकसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के धर्मेन्द्र यादव की तूती बोलती है। उनके कार्यो को लोग याद करते हैं। भाजपा ने यहां यूपी सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य की पुत्री डॉ. संघमित्रा मौर्य को प्रत्याशी बनाया है। दोनों के बीच कड़ा मुकाबला है। यहां भाजपा मुश्किल में है। सपा का पलड़ा भारी दिखाई दे रहा है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned