scriptGST return not filed till 31st, will have to pay heavy fine, daily lat | 31 तक नहीं किया जीएसटी रिटर्न दाखिल, देना होगा भारी जुर्माना, रोज की पड़ेगी लेट फीस | Patrika News

31 तक नहीं किया जीएसटी रिटर्न दाखिल, देना होगा भारी जुर्माना, रोज की पड़ेगी लेट फीस

locationबरेलीPublished: Dec 26, 2023 06:38:20 pm

Submitted by:

Avanish Pandey

बरेली। जीएसटी वार्षिक रिटर्न फार्म 9 समय से दाखिल न करने पर 31 दिसंबर के बाद भारी जुर्माना देना होगा। एडिशनल कमिश्नर राज्य कर ओपी चौबे ने बताया कि वार्षिक रिटर्न जमा ना करने पर ₹200 प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना लगाया जाएगा। इसका अर्थ दंड अलग से लगेगा।

chauve_ji.jpg
50 हजार के जुर्माने का है प्रावधान

31 दिसंबर से पहले जीएसटी वार्षिक रिटर्न दाखिल न करने पर जीएसटी अधिनियम की धारा 125 के तहत सामान्य अर्थदंड स्टेट और केंद्रीय जीएसटी का 50 हजार लगाया जा सकता है। इसके अलावा कारण बताओं नोटिस जारी किया जाएगा। उद्यमी को नोटिस जारी करने के बाद सुनवाई का अवसर मिलेगा। इसके बाद संतुष्टि ना होने पर जुर्माना डाल दिया जाएगा। कारोबारी वित्तीय वर्ष 2022-23 का वार्षिक रिटर्न फॉर्म नो और फॉर्म 9सी 31 दिसंबर तक दाखिल कर दें। दाखिल न करने पर लेट फीस और जुर्माना दोनों लगेंगे।
दो करोड़ तक जीएसटी दाखिल करने वाले फार्म 9 से मुक्त

एडिशनल कमिश्नर ने बताया कि दो करोड़ तक सालाना टर्नओवर वाले कारोबारी जीएसटी वार्षिक रिटर्न फॉर्म 9 सी दाखिल करने से मुक्त कर दिए हैं। सालाना टर्नओवर 2022-23 का 2 करोड़ से अधिक है तब वार्षिक रिटर्न फॉर्म 9 अनिवार्य रूप से 31 दिसंबर तक दाखिल करना होगा। दाखिल न करने पर प्रतिदिन 200 रुपये लेट फीस लगेगी। इसके बाद ही वार्षिक रिटर्न फॉर्म 9 दाखिल हो सकेगा। सालाना टर्नओवर पांच करोड़ या इससे अधिक है। तब वार्षिक समाधान फॉर्म 9सी वित्तीय वर्ष 2022-23 का 31 दिसंबर 2023 तक दाखिल किया जाना है। इसका वार्षिक समाधान विवरण जीएसटी रिटर्न में घोषित टैक्स के आंकड़ों और वही खाते में व्यापारी द्वारा अपलोड किया जाता है। यदि टैक्स बन रहा है तब उसका भुगतान व्यापारी को करना होगा।

ट्रेंडिंग वीडियो