हज यात्रा 2019: जानिए कब किस शहर के यात्री होंगे रवाना

हज यात्रा 2019: जानिए कब किस शहर के यात्री होंगे रवाना

jitendra verma | Updated: 18 Jun 2019, 02:25:14 PM (IST) Bareilly, Bareilly, Uttar Pradesh, India

जिन हज यात्रियों ने तीसरी क़िस्त जमा नही की हैं वो 20 जून तक क़िस्त जमा अवश्य कर दे ताकि उनको दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

 

बरेली। हज यात्रा 2019 haj yatra 2019 के लिए हज कमेटी ऑफ इंडिया ने फ्लाइट शिड्यूल जारी कर दिया है। 21 जुलाई को लखनऊ से हज यात्रा के लिए पहली फ्लाइट रवाना होगी। लखनऊ से पांच अगस्त तक फ्लाइट रवाना होगी। हज यात्रियों की वापसी 29 अगस्त से शुरू हो जाएगी। बरेली हज सेवा समिति के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं हज ट्रेनर हाजी यासीन क़ुरैशी व हज सेवा प्रभारी नजमुल एसआई खान ने बताया कि बरेली मण्डल के हज यात्रियों रवानगी 23 जुलाई से होगी। बदायूँ के हज यात्रियों की फ्लाइट 23 जुलाई को रवाना होगी और वापसी 1 सितम्बर को होगी। ,बरेली के हज यात्रियों की फ्लाइट 26 व 27 जुलाई को रवाना होगी वहीं वापसी 4 सितम्बर को होगी,शाहजहाँपुर के हज यात्रियों की फ्लाइट 4 व 5 अगस्त को होगी और वापसी की फ्लाइट 11 व 12 सितम्बर को होगी। पीलीभीत के हजयात्रियों की फ्लाइट 3 अगस्त को होगी और वापसी 11 सितम्बर को होगी।

ये भी पढ़ें

हज यात्रियों के लिए जरूरी ख़बर, यात्रा के दौरान बरतें ये सावधानी

Haj yatra 2019 Know Date of departure from lucknow

किस जिले के यात्री कब होंगे रवाना


लखनऊ 21 से 25 जुलाई और वापसी 29 अगस्त से 3 सितम्बर

औरैया 21 जुलाई और वापसी 29 अगस्त

बलिया 21 जुलाई और वापसी 29 अगस्त

चंदौली 21 जुलाई और वारसी 29 अगस्त

चित्रकूट 21 जुलाई और 29 अगस्त

देवरिया 21 जुलाई और 29 अगस्त को

इलाहाबाद 21 जुलाई और वापसी 29 व 30 अगस्त को

अम्बेडकर नगर 22 जुलाई और वापसी 31 अगस्त को

आज़मगढ़ 23 जुलाई और वापसी 1 सितम्बर को

बाँदा 23 जुलाई और वापसी 1 सितम्बर को

बदायूँ 23 जुलाई और वापसी 1 सितम्बर को

बहराइच 23 व 24 जुलाई और वापसी 2 सितम्बर को

बलरामपुर 24 व 25 जुलाई और वापसी 2 व 3 सितम्बर को

कुशीनगर 25 जुलाई और वापसी 3 सितम्बर को

बाराबंकी 25 व 26 जुलाई और वापसी 3 व 4 सितम्बर को

बस्ती 26 जुलाई और वापसी 4 सितम्बर को

बरेली 26 व 27 जुलाई और वापसी 4 सितम्बर को

फतेहपुर 27 जुलाई और वापसी 4 सितम्बर को

फैज़ाबाद 27 जुलाई और 4 सितम्बर को

इटावा 27 जुलाई और वापसी 4 सितम्बर को

फर्रुखाबाद 27 जुलाई और वापसी 4 सितम्बर को

उन्नाव 27 जुलाई और वापसी 4 सितम्बर को

गोण्डा 28 जुलाई और वापसी 5 सितम्बर को

गाजीपुर 28 जुलाई और 5 सितम्बर को

हमीरपुर 28 जुलाई और 5 सितम्बर को

जालौन 28 जुलाई और 5 सितम्बर को

गोरखपुर 28 व 29 जुलाई और वापसी 5 व 6 सितम्बर को

हरदोई 29 जुलाई और वापसी 6 सितम्बर को

जौनपुर 29 जुलाई और वापसी 6 सितम्बर को

झाँसी 29 जुलाई और 6 सितम्बर को

कानपुर नगर 30 जुलाई और वापसी 6 व 7 सितम्बर को

कानपुर देहात 30 जुलाई और वापसी 7 सितम्बर को

कन्नौज 30 जुलाई और वापसी 7 सितम्बर को

कासगंज 30 जुलाई और वापसी 7 सितम्बर को

कौशाम्भी 30 जुलाई और वापसी 7 सितम्बर को

लखीमपुर खीरी 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

ललितपुर 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

महोबा 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

महराजगंज 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

एटा 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

मैनपुरी 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

वाराणसी 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

संत रविदास नगर 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

सोनभद्र 31 जुलाई और वापसी 8 सितम्बर को

अमेठी 1 अगस्त और वापसी 8 सितम्बर को

प्रतापगढ़ 1 अगस्त और वापसी 8 सितम्बर को

संत कबीरनगर 1 अगस्त और वापसी 9 सितम्बर को

रायबरेली 1 अगस्त और 9 सितम्बर को

मऊ 2 अगस्त और वापसी 10 सितम्बर को

सुल्तानपुर 2 अगस्त और वापसी 10 सितम्बर को

सिद्धार्थनगर 3 अगस्त और वापसी 10 व 11 सितम्बर को

पीलीभीत 3 अगस्त और वापसी 11 सितम्बर को

सीतापुर 4 अगस्त और वापसी 11 सितम्बर को

शाहजहांपुर 4 व 5 अगस्त और वापसी 11 व 12 सितम्बर को

श्रावस्ती 5 अगस्त और वापसी 12 सितम्बर को

ये भी पढ़ें

हज यात्रियों के लिए बड़ी खबर

Haj yatra 2019 Know Date of departure from lucknow

20 जून तक जमा होगी अंतिम क़िस्त

बरेली हज सेवा समिति के हाजी अज़ीम हसन ने कहा कि बरेली के हजयात्रियों के लिये हज का सफ़र इस बार बहुत ज़्यादा मुबारक़ होगा। बरेली के हजयात्री पहले मक्का शरीफ़ में काबे शरीफ़ का दीदार करेंगे मिना और अराफ़ात के मैदान पर हज के अरकान अदा करेंगे और भारत वापसी मदीने शरीफ़ में इबादत के बाद करेंगे।बरेली हज सेवा समिति के संस्थापक पम्मी खान वारसी ने हज यात्री से अपील करते हुए कहा कि सभी लोग अपनी अपनी तैयारियां मुकम्मल कर ले,जिन हज यात्रियों ने तीसरी क़िस्त जमा नही की हैं वो 20 जून तक क़िस्त जमा अवश्य कर दे ताकि उनको दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned