Kamlesh Tiwari Murder: बरेली में हाई अलर्ट, देर रात तक बॉर्डर पर चली चेकिंग

एसएसपी शैलेष पांडेय (SSP Shailesh Pandey) ने जिले के बॉर्डर के सभी थानों पर चेकिंग करने के निर्देश दिए हैं।

बरेली। हिंदू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) की हत्या के बाद हत्यारोपियों की बरेली में उपस्थिति और वहां से मिली सहायता के अंदेशे के बाद जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। इस दौरान एसएसपी शैलेष पांडेय (SSP Shailesh Pandey) ने जिले के बॉर्डर के सभी थानों पर चेकिंग करने के निर्देश दिए हैं। इसको लेकर रविवार सुबह से लेकर देर रात तक पुलिस का सघन चेकिंग अभियान चला। इस दौरान लखनऊ, रामपुर, पीलीभीत और बदायूं बॉर्डर पुलिस ने तमाम संदिग्ध लोगों को रोककर पूछताछ की।

मालूम हो कि कमलेश हत्याकांड को लेकर एक गुमनाम चिट्ठी भी एसएसपी दफ्तर पहुंची है, जिसमें किला के मूलकपुर निवासी एक शख्स को हत्यारों का मददगार बताया गया है। चिट्ठी में उस शख्स पर आरोपियों का इलाज बरेली में करवाने, उन्हें बरेली से बाहर भेजने से लेकर रातोंरात उसके अमीर होने की बात कही गई है। पत्र मिलने की सूचना पर एसटीएफ व तमाम खुफिया एजेंसियां आरोपी की पहचान करने में जुट गई हैं।

यह भी पढ़ें: कमलेश तिवारी हत्याकांड का बरेली कनेक्शन, एसएसपी को मिली चिट्ठी, जानिए पूरा मामला!

वहीं एटीएस व एसटीएफ को भी हत्यारोपियों की लोकेशन बरेली में मिली थी। पुलिस की टीमों ने जंक्शन के आसपास कई अन्य होटल खंगाल डाले। कई सीसीटीवी फुटेज देखे मगर दोनों के बारे में कुछ भी पता नहीं चला। ऐसे में पुलिस को भी शक है कि दोनों किसी होटल या लॉज में नहीं गए बल्कि किसी मददगार की शरण में पहुंचे हैं। इसके अलावा भी पुलिस को ऐसे कई इनपुट मिले हैं जिनके आधार पर कहा जा सकता है कि कमलेश हत्याकांड का बरेली कनेक्शन है।

यह भी पढ़ें: By Election 2019: इगलास विधानसभा क्षेत्र के कई गांवों में चुनाव का बहिष्कार, लगे बीजेपी मुर्दाबाद के नारे, देखें वीडियो

जैसा कि माना जा रहा है कि कमलेश तिवारी की हत्या चार साल पहले उनके द्वारा दिए गए एक बयान को लेकर हुई है। उस समय उनके बयान पर बरेली के उलमा ने भी रोष जताया था। बरेली कनेक्शन ढूंढने के लिए खुफिया विभाग बरेली से जारी हुए चर्चित फतवों की सूची बना रही है। इसके अलावा कमलेश तिवारी की हत्या के बाद एक युवक ने भी ट्वीट कर खुशी जतायी थी। पुलिस उसे युवक के बारे में भी पता लगा रही है।

Show More
suchita mishra
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned