यहां साम्प्रदायिक एकता की मिसाल बने हिन्दू

आजमीने हज को हज यात्रा पर विदा करने के लिए तमाम हिन्दू भी स्टेशन पहुंचकर हज यात्रियों को फूल मालाओं से लादकर विदा कर रहे हैं।

By: suchita mishra

Published: 24 Jul 2018, 01:25 PM IST

बरेली। इन दिनों हज यात्रा 2018 के आजमीने हज की रवानगी चल रही है। ये सिलसिला 29 जुलाई तक जारी रहेगा। आजमीने हज को हज यात्रा पर विदा करने के लिए तमाम हिन्दू भी स्टेशन पहुंच रहे हैं और हज यात्रियों को फूल मालाओं से लाद कर हज यात्रा के लिए विदा कर रहे हैं। बरेली हज सेवा समिति के तत्वाधान में बरेली जंक्शन रेलवे स्टेशन पर आज़मीने हज का रुख़्सती इस्तक़बालिया प्रोग्राम किया गया जिसने बड़ी तादात में हिन्दू भी आजमीने हज को विदा करने के लिए जंक्शन पहुंचे।

बरेली हज सेवा समिति ने किया कार्यक्रम
बरेली हज सेवा समिति के संस्थापक पम्मी खां वारसी ने बताया कि 250 हज यात्रियों का काफिला लखनऊ हज हाउस के लिये रवाना हुआ और इन हज यात्रियों को रवाना करने के लिए बड़ी संख्या में हिंदू भी स्टेशन पहुंचे। पम्मी खां वारसी ने बताया कि हिन्दू भाईयों ने फूलों की बारिश कर और माला पहना कर हज यात्रियों को विदा किया। पम्मी खान का कहना है कि हिन्दू भाइयों की इस पहल से आपसी भाई चारा बढ़ेगा।

ये रहे मौजूद
हज यात्रियों को विदा करने वालों में डॉ0 सीताराम राजपूत,सोनू मौर्य, प्रशान्त यादव,ठाकुर संतोष सिंह,गौरव शुक्ला, नितेश मिंटू,आदि शामिल रहे और सभी ने हज यात्रियों से सर पर हाथ रखवाकर दुआँ करने को कहा कि हमारे भारत में हमेशा भाईचारा क़ायम रहे और हमेशा अमन चैन कायम रहे। इसके साथ ही इस्तक़बालिया कार्यक्रम में हाजी उवैस खान,हाजी यासीन कुरैशी, मोहसिन इरशाद,नजमुल एसआई खान,हाजी साकिब रज़ा खाँ, हाजी चाँद खान,अहमद उल्लाह वारसी,आमिर उल्लाह,अब्दुल वाहिद कुरैशी,हाजी अज़ीम हसन,हाजी अब्दुल लतीफ कुरैशी,निहाल खान,हाजी ताहिर,इसराफिल खान राशमी, आमिर उल्लाह आशु,सैफ उल्लाह खान आदि ने फूलों की बारिश कर इस्तक़बाल किया।

29 जुलाई तक रवाना होंगे हज यात्री
बरेली के हज यात्रियों की उड़ान लखनऊ से हो रही है। इसके लिए बरेली के हज यात्री लखनऊ हज हाउस के लिए रवाना हो रहे हैं और ये सिलसिला 29 जुलाई तक जारी रहेगा।

suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned