अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट को तोड़ेगा नगर निगम, हुआ फैसला

सपा सरकार में बरेली विकास प्राधिकरण ने साइकल ट्रैक का निर्माण कराया था

By: jitendra verma

Updated: 07 Mar 2020, 11:13 AM IST

बरेली। समाजवादी पार्टी की सरकार में बने साइकल ट्रैक पर नगर निगम जेसीबी चलवाएगा। रोड चौड़ा कराने के लिए अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट को तोड़ा जाएगा। सपा सरकार में बरेली विकास प्राधिकरण ने साइकल ट्रैक का निर्माण कराया था लेकिन अब इसको तोड़ने की जिम्मेदारी नगर निगम ने ली है। साइकल ट्रैक से अतिक्रमण होने और जाम लगने की समस्या के चलते नगर निगम कार्यकारिणी ने उन्हें तोड़ने का फैसला लिया है।
कार्यकारिणी में आया प्रस्ताव
कार्यकारिणी की बैठक में साइकल ट्रैक को तोड़ने का प्रस्ताव लगाया गया। बताया गया कि सेटेलाइट से आजाद कॉलेज तक बने साइकल ट्रैक पर अवैध कब्जे हो रहे हैं वहां पर वाहन खड़े किए जा रहे हैं, जिससे जाम की समस्या बनती है। साइकल ट्रैक को खत्म करना जरूरी है। तमाम चर्चा के बाद इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई।
सरकार बदलते ही हुआ तोड़ने का एलान
प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद ही साइकल ट्रैक को तोड़ने का एलान किया गया था। तत्कालीन नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना ने इसे तोड़ने का एलान किया था। माना जा रहा है कि प्रदेश सरकार के इस रुख के कारण ही नगर निगम कार्यकारिणी ने साइकल ट्रैक को तोड़ने के प्रस्ताव पर मुहर लगाने में देर नहीं लगाई।
अफसरों की लापरवाही से बरबाद हो गया ट्रैक

बरेली में साइकल ट्रैक का निर्माण तो साइकल चलाने वालों के लिए किया गया था लेकिन इसे बनाने के बाद अफसरों ने इस पर ध्यान ही नहीं दिया जिससे साइकल ट्रैक पर लोगों ने अतिक्रमण कर लिया। साइकल ट्रैक के बीच में अपने वाहन खड़े करने लगे। ट्रैक पर फड़ वाले खड़े होने लगे जिससे साइकल ट्रैक जगह जगह पर क्षतिग्रस्त हो गया है।

Show More
jitendra verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned