शराब बुराइयों की जननी है, बिक्री पर रोक लगाए सरकार- मौलाना तौक़ीर

उन्होंने कहा इससे राजस्व का नुकसान तो है इससे धर्म की कितनी बड़ी हानि है। क्योकि शराब बुराइयों की जननी है

By: jitendra verma

Published: 10 May 2020, 12:15 PM IST

बरेली। आईएमसी प्रमुख मौलाना तौक़ीर रज़ा खान ने शराब की बिक्री पर कड़ा ऐतराज़ जताया है। उन्होंने प्रदेश सरकार से शाराब की बिक्री पर तुरंत रोक लगाने की मांग की है। वीडियो सन्देश जारी कर मौलाना तौक़ीर ने कहा कि योगी आदित्यनाथ प्रदेश के मुख्यमंत्री होने साथ साथ धर्म गुरु भी हैं। इसलिए धर्मगुरु की ज़िम्मेदारी है कि वो लोगों को बुराइयों से रोकने की कोशिश करे। उन्होंने कहा इससे राजस्व का नुकसान तो है इससे धर्म की कितनी बड़ी हानि है। क्योकि शराब बुराइयों की जननी है, बुराईयों की माँ है इसलिए शराब की बिक्री पर रोक लगाई जाए।

लोगों ने दी कुर्बानी
मौलाना तौक़ीर ने कहा कि इस समय कारोबार बंद हैं, तमाम चीज़े बंद हैं। हिन्दू मंदिर नहीं जा रहे हैं, मुस्लिम मस्जिद नहीं जा रहे हैं और सिख गुरुद्वारे नहीं जा रहे हैं। इससे बड़ी क्या कुर्बानी होगी। लेकिन जो शराब बुराइयों की माँ और बुराइयों की जननी कही जाती है वह खूब बिक रही है। मंडी में तो भीड़ पर पुलिस लाठी मारती है लेकिन शराब की दुकान पर भीड़ लग रही है वहाँ पुलिस व्यवस्था में लगी है। उन्होंने कहा कि शराब की वजह से लॉक डाउन टूट रहा है। उनका कहना है कि लोग शराब को भूल चुके थे, लोगों की शराब छूट गई थी। लेकिन सरकार ने जल्दबाजी में ये फैसला लिया है।
ऐसी ईद दोबारा न आए
तौक़ीर रज़ा ने संदेश में कहा कि मुल्क ही नही पूरी दुनिया इस वक्त तकलीफ में है। खास तौर पर हमारे यहाँ जो ग़रीब व मज़दूर तबका है वो बहुत तकलीफ़ और बेचैनी में है। ऐसे हालात में समझता हूं कि ईद की खरीदारी की खुशी कही नही होगी। इस लिए इस बार ईद की खुशियां न मनाई जाए। रमज़ान के खत्म होने के बाद शुक्राने की नमाज़ अदा करें। अल्लाह से दुआ करे ऐसी ईद हमारी ज़िंदगी फिर कभी न आए।

Corona virus
Show More
jitendra verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned