नाबालिग छात्रा को धमकाकर रेप करता रहा टीचर, जब पेट में दर्द उठा तो हुआ ऐसा खुलासा कि सबके होश उड़ गए...

नाबालिग छात्रा को धमकाकर रेप करता रहा टीचर, जब पेट में दर्द उठा तो हुआ ऐसा खुलासा कि सबके होश उड़ गए...

suchita mishra | Publish: Jun, 14 2018 05:18:42 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देता था टीचर। जब छात्रा के पेट में दर्द उठा तब पता चला कि वो गर्भवती है।

बरेली। जिले में एक कलयुगी गुरु ने गुरु शिष्य के रिश्ते को शर्मसार कर दिया। प्रेमनगर इलाके में कोचिंग सेंटर चलाने वाले एक टीचर ने 15 साल की छात्रा के साथ रेप किया और उसे जान से मारने की धमकी देकर मुंह बंद रखने को कहा। इस बात का खुलासा तब हुआ जब छात्रा के पेट मे दर्द हुआ तो उसकी मां उसे डॉक्टर के पास लेकर पहुंची। चेकअप के बाद पता चला कि छात्रा सात माह की गर्भवती है। छात्रा की मां ने गर्भपात की बात कही तो डॉक्टरों ने कानून का हवाला देकर गर्भपात करने से मना कर दिया। ऐसे में अब ये छात्रा अपने टीचर की करतूत के चलते पढ़ाई लिखाई की उम्र में बिन ब्याही मां बनने को मजबूर है। वहीं पुलिस ने इस मामले में आरोपी टीचर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

रेप के बाद दी धमकी
प्रेमनगर थाना क्षेत्र के गुलाबनगर का रहने वाला दीपक सक्सेना शाहबाद में कोचिंग सेंटर चलाता है। हाईस्कूल में पढ़ने वाली एक पंद्रह वर्षीय छात्रा ने अक्टूबर 2017 में इंग्लिश की कोचिंग के लिए उसके कोचिंग सेंटर में प्रवेश लिया था। आरोप है कि 17 नवम्बर 2017 को टीचर ने छात्रा को काम पूरा करने के बहाने कोचिंग में रोक लिया और छात्रा के साथ जबरदस्ती रेप किया और छात्रा को धमकी दी कि अगर उसने किसी को बताया तो वो उसके मां बाप को मार देगा। टीचर के डर से छात्रा चुप रही।

तबियत बिगड़ने पर हुआ खुलासा
एक दिन अचानक तबियत बिगड़ने पर छात्रा के परिजन उसे डॉक्टर के पास ले गए जहां पर डॉक्टर ने जो बात बताई, उससे छात्रा के परिजनों के होश उड़ गए। डॉक्टर ने बताया कि छात्रा सात माह की गर्भवती है। जिसके बाद छात्रा के परिजनों ने गर्भपात की बात कही लेकिन डॉक्टर ने कानून का हवाला और छात्रा की जान का खतरा बता कर गर्भपात करने से मना कर दिया।

आरोपी गिरफ्तार
जब छात्रा के गर्भवती होने के बात उसके परिजनों को पता चली तो उसके परिजन प्रेम नगर थाने पहुंचे और आरोपी टीचर के खिलाफ तहरीर दी। परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

देना पड़ेगा बच्चे को जन्म
15 साल की छात्रा को अब बच्चे को जन्म देना पड़ेगा क्योंकि भारत का कानून सात माह की गर्भवती को गर्भपात की इजाजत नहीं देता है। वहीं सात माह में गर्भपात कराने से छात्रा की जान को भी खतरा है। आपको बता दें कि इसी तरह से शीशगढ़ की रहने वाली एक किशोरी भी रेप का शिकार होकर गर्भवती हुई थी। उसने भी गर्भपात की इजाजत मांगी थी, लेकिन उसे गर्भपात कराने की इजाजत नहीं मिली थी। ऐसे में अब छात्रा को पढ़ने लिखने की उम्र में बच्चे को जन्म देना पड़ेगा।

 

Ad Block is Banned