scriptबाकरगंज में सुबह 10 बजे होगी नमाज, खुले में ना करें कुर्बानी, इंटरनेट पर भी वीडियो तस्वीर डालने पर प्रतिबंध | Nama will be held at 10 am in Bakarganj, do not do it in the open, there is a ban on uploading video and pictures on the internet | Patrika News
बरेली

बाकरगंज में सुबह 10 बजे होगी नमाज, खुले में ना करें कुर्बानी, इंटरनेट पर भी वीडियो तस्वीर डालने पर प्रतिबंध

शहर के बाकरगंज में सुबह 10 बजे नमाज होगी। इससे पहले मुस्लिम धर्मगुरुओं ने 17 जून को ईद-उल-अजहा का त्योहार मनाने वाले सभी मुसलमानों से अपील की है। कहा है कि खुले में कुर्बानी न करने और कुर्बानी या इससे संबंधित तस्वीरों को सोशल मीडिया पर साझा न करें।

बरेलीJun 16, 2024 / 01:13 pm

Avanish Pandey

बरेली। शहर के बाकरगंज में सुबह 10 बजे नमाज होगी। इससे पहले मुस्लिम धर्मगुरुओं ने 17 जून को ईद-उल-अजहा का त्योहार मनाने वाले सभी मुसलमानों से अपील की है। कहा है कि खुले में कुर्बानी न करने और कुर्बानी या इससे संबंधित तस्वीरों को सोशल मीडिया पर साझा न करें। दुनिया भर के मुसलमान ईद-उल-अजहा का त्योहार सोमवार यानी कल मनाने वाले हैं। लेकिन कुर्बानी का सिलसिला 18 और 19 जून तक चलेगा।
न करें कुर्बानी में दिखावा, जानवरों की तस्वीर सोशल मीडिया पर न करें शेयर
दरगाह आला हजरत के सज्जादानशीन मुफ्ती अहसन रजा कादरी ने कहा कि जो मुसलमान शरई मालदार है। उन पर कुर्बानी वाजिब है। उन्होंने कहा कि कुर्बानी के समय हम वतन भाइयों का ख्याल रखें। कुर्बानी में दिखावा न करें। जानवरों की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर न करें। जानवरों की कुर्बानी खुली जगह में न करें और खून नालियों में न बहाएं। कुर्बानी के बाद उसके अपशिष्ट पदार्थ किसी गड्ढे दफन कर दें। कोई ऐसा कार्य नहीं करे, जिससे किसी की भावनाएं आहत हो।
इस्लाम में कुर्बानी का कोई दूसरा नहीं है विकल्प
दरगाह आला हजरत से जुड़े संगठन जमात रजा ए मुस्तफा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सलमान मियां ने कहा कि इस्लाम में कुर्बानी का कोई दूसरा विकल्प नहीं है, जिसका करना हर साहिबे निसाब मुसलमान पर फर्ज है। इसलिए जिस पर कुर्बानी फर्ज है, उसे हर हाल में इसको करना चाहिए। जानवरों के अवशेषों को इस तरह दफन करें कि बदबू न फैले। आल इंडिया मुस्लिम जमात के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना मुफ्ती शहाबुद्दीन रजवी बरेलवी ने कहा कि आगामी दिनों में बकरीद और गंगा दशहरा दोनों पर्व हैं। बकरीद के तीन दिनों में बिजली, पानी, सफाई की जरूरत बढ़ जाती है। इसलिए नगर निगम का सहयोग करें। कुर्बानी को खुली जगह पर न करें। अगर परंपरागत तरीके से गली में कुर्बानी होती आई है तो उसको शामियाना लगाकर ढंक दें।
कल इन स्थानों पर होगी अलग-अलग समय में नमाज
■ सुबह 5.40 बजे बाजार संदल खान की दरगाह वली मियां। 5.45 पर रेलवे जंक्शन की नूरी मस्जिद, ज़खीरे की दुलिया वाली मस्जिद, साहूकारा की अनार वाली मस्जिद पर नमाज होगी।
■ सुबह 6 बजे कांकर टोला की छह मीनार मस्जिद, कुतुबखाना मस्जिद, आनंद विहार की कोड़ा शाह मस्जिद और 6.15 बजे कांकर टोला की नूरानी मस्जिद। सुबह 6.30 किला थाना की शाही मस्जिद, बालजती की गुरुड़ वाली मस्जिद, चक महमूद की नूरे नबी मस्जिद, बाजार संदल खान की नूरे इलाही मस्जिद, फूलवालान की नूरजहां मस्जिद, कटरा मानराय की यतीम खाना मस्जिद, बड़ा बाजार की हरी मस्जिद।
■ सुबह 7 बजे दरगाह शाह शराफत अली मियां, सैलानी की हबीबिया मस्जिद, गुलाब नगर की फूलशाह मस्जिद, जगतपुर की गुलशने बगदाद मस्जिद, पुराना शहर की काज़ी टोला मस्जिद, स्वाले नगर की एक मीनार मस्जिद, मलूकपुर की पूर्वियान मस्जिद, कांकर टोला की जहान खां मस्जिद, छावनी अशरफ खान की घेर वाली मस्जिद, गढ़ी चौकी की छोटी मस्जिद, गड़ैया की हाशमी मस्जिद, एजाज़ नगर गौटिया की पुरानी मस्जिद, घेर शेख मिट्ठू की नियारयान मस्जिद, लीची बाग की फ़ैजाने मदीना मस्जिद, बानखाना की एक मीनार मस्जिद, खन्नु मोहल्ला की अबू बक्र मस्जिद, आनंद बिहार कॉलोनी मस्जिद, शाहबाद की मुन्ना तारकश मस्जिद।
■ सुबह 7.15 बजे ब्रह्मपुरा की सय्यदों वाली मस्जिद, बानखाना की अब्दुल्ला मस्जिद। 7.30 बजे जसोली की पीराशाह मस्जिद, आजम नगर की मोलसिरी मस्जिद, पुराना शहर की दावते इस्लामी मस्जिद, कैंट की हाथी खाना मस्जिद, कांकर टोला की खरदियान मस्जिद, पंजाब पुरा की इब्राहीम सेठ मस्जिद, जखीरा की छप्पर वाली मस्जिद व 7.45 पर खानकाहे वामिकिया में नमाज होगी।
■ कल सुबह 8 बजे चौकी चौराहा मस्जिद, बिहारीपुर की बीबी जी मस्जिद, आजम नगर की जामुन वाली मस्जिद, रेती की नक्षबंदियान मस्जिद, मलूकपुर की मुफ्ती आज़म हिंद, आजम नगर जोगियान की एक मीनार मस्जिद, फूटा दरवाज़ा की गलीशमशुद्दीन मस्जिद व सवा आठ बजे सुभाष नगर की साबरी मस्जिद, कुतुबखाना गली मनिहारान की क़ादरी मस्जिद पर नमाज होगी। वहीं, 8.30 बजे गुलाब नगर की दरगाह बशीर मियां, आजम नगर की हाजी मसीत उल्लाह मस्जिद, गड़ैया की नूरी मस्जिद, मलूकपुर की शेर खान मस्जिद, बजरिया पूरनमल की बादशाह मस्जिद में नमाज पढ़ी जाएगी।
■ सुबह नौ बजे ख़ानक़ाह-ए-नियाज़िया, किला की जामा मस्जिद, दरगाह शाहदाना वली, सिविल लाइन्स की दरगाह नासिर मियां नौमहला मस्जिद, कुतुबखाना गली नबावान जन्नत मस्जिद।10 बजे बाकरगंज ईदगाह, गुलाब नगर की घोसियान मस्जिद। 10.30 बजे दरगाह आला हज़रत की रज़ा मस्जिद में नमाज अदा की जाएगी।

Hindi News/ Bareilly / बाकरगंज में सुबह 10 बजे होगी नमाज, खुले में ना करें कुर्बानी, इंटरनेट पर भी वीडियो तस्वीर डालने पर प्रतिबंध

ट्रेंडिंग वीडियो