इस्लाम से खारिज करने वाले इमाम पर निदा ने बोला हमला

निदा खान को इस्लाम से खारिज करने का एलान करने वाले शहर इमाम खुर्शीद आलम पर निदा खान ने निशाना साधा है।

By: suchita mishra

Published: 24 Jul 2018, 01:53 PM IST

बरेली। तलाक पीड़ित महिलाओं के हक की लड़ाई लड़ने वाली निदा खान को इस्लाम से खारिज करने का एलान करने वाले शहर इमाम खुर्शीद आलम पर निदा खान ने निशाना साधा है। निदा खान का कहना है कि आला हजरत का फतवा है कि फोटो खिंचवाना नाजायज है और ऐसे इमाम के पीछे नमाज नहीं होती है इसलिए उनके खिलाफ फतवा लाने वाले को इमाम नहीं होना चाहिए। आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले शहर इमाम खुर्शीद आलम ने फतवा लिया था जिसमें शरीयत की मुखालफत करने वाली महिलाओं के खिलाफ क्या शरीयत कानून है, इसकी जानकारी मांगी थी। दरगाह आला हजरत के दारूल इफ्ता से फतवा जारी होने के बाद शहर इमाम खुर्शीद आलम ने प्रेस कांफ्रेंस कर निदा खान को इस्लाम से खारिज करने का एलान किया था।

निदा का पलटवार
आला हजरत हेल्पिंग सोसाइटी की अध्यक्ष निदा को इस्लाम से खारिज कर उसका हुक्का पानी बन्द करने का एलान किया गया था, यहां तक कहा गया कि निदा खान अगर बीमार हों तो कोई मुसलमान उसे दवा न दें और उसकी नमाज ए जनाजा में भी कोई शामिल न हो। इसके साथ ही उसे कब्रिस्तान में दफन न करने दिया जाए। फतवा जारी होने के बाद निदा अपने घर में कैद होकर रह गई है और अब उसने फतवा मांगने वाले शहर इमाम मुफ़्ती खुर्शीद आलम पर ही पलटवार किया है। निदा का कहना है कि आला हजरत का फतवा है कि फोटो खिंचवाना ***** है और फोटो खिंचवाने वाले इमाम के पीछे नमाज नहीं हो सकती है। ऐसे में जिन्होंने उनके खिलाफ फतवा लिया है उन्हें इमाम नहीं होना चाहिए क्योंकि एलान करते समय न सिर्फ उन्होंने फ़ोटो खिंचवाई बल्कि उनका वीडियो भी बनाया गया।

निदा की बढ़ी सुरक्षा
निदा खान के इस्लाम से खारिज होने के बाद निदा खान ने खुद को और उसके परिवार को खतरा बताया है। निदा खान का कहना है कि फतवे के बाद भीड़ द्वारा उसकी और परिवार की हत्या की जा सकती है। इसे देखते हुए निदा खान की सुरक्षा बढ़ा दी गई है और उसके घर के बाहर पुलिस पिकेट तैनात कर दी गई है। साथ ही निदा खान को एक और गनर मुहैया करा दिया गया है।

इनाम की घोषणा करने वाले पर नही हुई कार्रवाई
वहीं इस बीच निदा खान के खिलाफ एक और एलान कर दिया गया है। ऑल इंडिया फैजाने मदीना कांउसिल के अध्यक्ष मोइन सिद्दकी नूरी ने निदा खान और फ़रहत नक़वी के खिलाफ एक तालीबानी फरमान जारी किया है। मोईन का कहना है कि जो भी व्यक्ति निदा खान और फ़रहत नक़वी की चोटी काट कर लाएगा और दोनों को पत्थर मार कर देश से बाहर निकालेगा उसे 11786 का इनाम दिया जाएगा। मोइन इसके पहले भी कई बार विवादित एलान कर चुका है और उसके खिलाफ मुकदमे भी दर्ज है। अब इस मामले में भी पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है।

 

suchita mishra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned