स्कूलों संचालकों ने काली पट्टी बांधकर मनाया काला दिवस

Amit Sharma

Publish: Oct, 12 2017 03:29:40 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
स्कूलों संचालकों ने काली पट्टी बांधकर मनाया काला दिवस

प्राईवेट स्कूल संचालकों का कहना है कि यदि स्कूल में किसी बच्चे के साथ कोई अनहोनी होती है तो स्कूल के प्रबंधक या ऑनर को ही क्योंं गिरफ्तार किया जाता है

बरेली। लगातार बढ़ते हस्तक्षेप और सरकार की नीतियों के खिलाफ निजी स्कूलों ने मोर्चा खोल दिया है। गुरुवार को जिले भर के निजी स्कूल संचालकों ने सरकार की नीतियों के विरोध में काला दिवस मनाया। स्कूल के शिक्षकों ने हाथ में काला फीता बांध कर और स्कूलों के गेट पर काला दिवस संबधित बैनर लगाकर सरकारी नीतियों का विरोध किया।


इंडिपेंडेंट स्कूल एसोसिएशन ऑफ बरेली के अध्यक्ष पारूष आरोरा ने बताया कि सरकार ने नियम लागू किया है कि स्कूलों के शिक्षकों का वेरीफिकेशन कराया जाए। मगर मानक व नियमों के आदेश संबंधित कोई भी जानकारी अभी तक नहीं भेजी गई है। जबकि सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों का कोई वेरीफिकेशन नहीं कराया जाता। सरकार द्वारा जारी आधार कार्ड में व्यक्ति की सभी जानकारी होती है तो आधार नंबर के द्वारा पुलिस वेरीफिकेशन क्यों नहीं करती।


कमेटी का कहना है कि यदि किसी स्कूल में किसी बच्चे के साथ कोई अनहोनी होती है तो सबसे पहले स्कूल के प्रबंधक और ऑनर को ही क्योंं गिरफ्तार किया जाता है। जबकि सरकारी स्कूलों में आए दिन छात्र-छात्राओं के साथ कोई न कोई अनहोनी व घटनाएं होती रहती हैं। मगर आज तक किसी सरकारी स्कूल के प्रिंसिपल, प्रबंधक और शिक्षक पर कोई कार्रवाई नहींं होती। आज तक किसी भी सरकारी स्कूल पर ताला नहीं लटकाया गया जबकि कोई घटना होने पर सरकार तुंरत हर निजी स्कूल पर ताला लटका देते हैं।


रेयान में हुई घटना के बाद बढ़ी सख्ती

रेयान इंटरनेशनल स्कूल में हुई मासूम छात्र की मौत के बाद सरकार ने निजी स्कूलों पर शिकंजा कस दिया है जिसमें सरकार ने स्कूल के कर्मचारियों का वेरीफिकेशन कराने का आदेश दिया है साथ ही स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्देश दिए है।बरेली में भी बीते दिनों स्कूल की एक छात्रा के साथ बस के हैल्पर ने छेड़छाड़ कर दी थी जिस पर पुलिस ने स्कूल के प्रबंधन पर मुकदमा दर्ज किया था जिसके बाद बरेली के जिला प्रशासन ने भी स्कूलों को कड़े निर्देश जारी किए हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned