फर्जी टिकट बेचने वाले बुकिंग क्लर्क को आरपीएफ ने किया गिरफ्तार

फर्जी टिकट बेचने वाले बुकिंग क्लर्क को आरपीएफ ने किया गिरफ्तार

jitendra verma | Updated: 13 Aug 2019, 08:56:42 AM (IST) Bareilly, Bareilly, Uttar Pradesh, India

पूछताछ में पता चला है कि सीनियर बुकिंग क्लर्क प्रदीप कुमार श्रीवास्तव पिछले तीन साल से ऐसा कर रहा था

बरेली। फर्जी टिकट बेच कर रेलवे को चूना लगाने वाले काशीपुर रेलवे स्टेशन के बुकिंग क्लर्क को आरपीएफ की स्पेशल टीम ने गिरफ्तार किया है। उसके पास से एक फर्जी टिकट भी बरामद हुआ है। पूछताछ में पता चला है कि सीनियर बुकिंग क्लर्क प्रदीप कुमार श्रीवास्तव पिछले तीन साल से ऐसा कर रहा था और रोजाना एक या दो टिकटों का फर्जीवाड़ा करता था। आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़ें

इज्जतनगर मंडल के डीआरएम ने किया तमाम रेलवे स्टेशन का निरीक्षण - देखें तस्वीरें

 

ऐसे करता था फर्जीवाड़ा
आरोपी बुकिंग क्लर्क सिस्टम में 10 रूपये का अनारक्षित टिकट फीड कर प्रिंटर बंद कर ब्लैंक टिकट निकाल लेता था और फिर उस टिकट पर लम्बी दूरी का विवरण प्रिंट कर यात्रियों को बेच देता था। इस तरह से 10 रूपये छोड़ कर बाकी रुपया बुकिंग क्लर्क रख लेता था। रेलवे की प्रक्रिया पूरी होने के कारण जांच में भी उसे पकड़ना मुश्किल था। लेकिन शक होने पर जब मामले की ठीक से जांच की गई तो मामला खुल गया और आरोपी बुकिंग क्लर्क को गिरफ्तार कर लिया गया।

ये भी पढ़ें

टीवी पर ट्रेन दुर्घटना देख कर बनाया ऐसा प्रोजेक्ट कि अब नहीं होंगे ट्रेन एक्सीडेंट

तलाशी में निकले ज्यादा रूपये

ड्यूटी से पहले बुकिंग क्लर्क ने अपने पास 400 रूपये होने का विवरण पुस्तिका में भरा था लेकिन जब उसे गिरफ्तार कर तलाशी ली गई तो बुकिंग क्लर्क के पास से 1240 रूपये बरामद हुए। आरोपी बुकिंग क्लर्क पहले भी धांधली में जेल जा चुका है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned