बिजली की बढ़ी दरों को लेकर सपा ने किया प्रदर्शन, बेरिकेडिंग तोड़ कलेक्ट्रेट में घुसे

बिजली की बढ़ी दरों को लेकर सपा ने किया प्रदर्शन, बेरिकेडिंग तोड़ कलेक्ट्रेट में घुसे

suchita mishra | Publish: Dec, 07 2017 03:28:59 PM (IST) | Updated: Dec, 07 2017 03:48:20 PM (IST) Agra, Uttar Pradesh, India

जिलाध्यक्ष शुभलेश यादव के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ताओं ने पार्टी ऑफिस से लेकर कलेक्ट्रेट तक पैदल मार्च निकाला।

बरेली। प्रदेश में बिजली की बढ़ी दरों को लेकर समाजवादी पार्टी ने गुरुवार को प्रदेश भर में प्रदर्शन किया। इसी क्रम में बरेली के सपाई भी बिजली की बढ़ी दरों के विरोध में जिलाध्यक्ष शुभलेश यादव के नेतृत्व में सड़कों पर उतरे। समाजवादी पार्टी के तमाम नेता और कार्यकर्ताओं ने पार्टी ऑफिस से लेकर कलेक्ट्रेट तक पैदल मार्च निकाला और कलेक्ट्रेट की बेरिकेटिंग तोड़ परिसर में घुस गए व जिलाधिकारी के कार्यालय के बाहर धरने पर बैठ गए।बाद में जिलाध्यक्ष ने मांग का ज्ञापन दिया।

बिजली की दरें कम हो
समाजवादी पार्टी का कहना है कि देश मे भाजपा की आर्थिक नीतियों के चलते नोट बन्दी और जीएसटी के कारण आम जनता बुरी तरह से परेशान है। महंगाई सुरसा के मुंह की तरह बढ़ती जा रही है। परंतु अभी राज्य में नगर निकाय चुनाव खत्म होते ही उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने बिजली की दरें बढ़ाकर घरेलू अर्थ व्यवस्था पर चोट की है। बढ़ी बिजली दरों के कारण लोगों की कमर टूट गई है। ग्रामीण क्षेत्रों और विशेषकर किसानों को मिलने वाली बिजली की दरों में अचानक भीषण बढोत्तरी भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों का प्रदर्शन है। पूरे प्रदेश में लोग इसको लेकर आक्रोशित हैं।

इसके साथ ही सपा ने कहा कि समाजवादी पार्टी ने हमेशा किसानों, गांवों और समाज के कमजोर वर्ग के हितों को प्राथमिकता दी है। उनके साथ भाजपा सरकार द्वारा किए जा रहे अन्याय को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। भाजपा सरकार द्वारा गरीबों और किसानों को दंडित किए जाने वाले व्यवहार का समाजवादी पार्टी कड़ा विरोध करती है। सपा ने राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन में मांग की है कि जनहित को देखते हुए बिजली दरों में हुई बढोत्तरी को वापस लेने के लिए भाजपा सरकार को निर्देश दिए जाएं।

बड़े नेता रहे गायब
सपा के इस प्रदर्शन में बड़े नेताओं ने दूरी बनाई रखी। सपा के प्रदर्शन में पूर्व विधायक,पूर्व सांसद, मेयर प्रत्याशी गायब रहे। जबकि महानगर अध्यक्ष कदीर अहमद, जिला महासचिव प्रमोद बिष्ट, जिला सचिव प्रमोद यादव, साधना मिश्रा, सतेंद्र यादव, हैदर अली, वैभव गंगवार, ह्रदयेश यादव, भारती चौहान, नीरज तिवारी समेत तमाम नेता कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Ad Block is Banned