वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल के रिश्तेदार के घर चोरी

चोरों ने उनके एक और छोटे भाई हेमंत अग्रवाल के घर में भी चोरी की कोशिश की।

By: अमित शर्मा

Published: 24 Jul 2018, 06:20 PM IST

बरेली। प्रदेश सरकार में वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल के रिश्तेदार उमानाथ का घर चोरों ने खंगाल डाला। चोरों ने उनके एक और छोटे भाई हेमंत अग्रवाल के घर में भी चोरी की कोशिश की। वे एक घंटे तक उनके घर में चहलकदमी करते रहे, फिर फरार हो गए। सूचना पर सुबह फील्ड यूनिट की टीम कोतवाली पुलिस के साथ मौके पर पहुंची। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी है।

एक घन्टा रहा चोर

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल के रिश्ते के भाई उमानाथ अग्रवाल और हेमंंत अग्रवाल रामपुर बाग में आनन्द आश्राम के पास रहते हैं। उमानाथ अग्रवाल मंगलवार सुबह करीब छह बजे सोकर उठे तो उन्होंने देखा कि घर में उनके कैंप ऑफिस का गेट खुला हुआ है। उनके ऑफिस खिड़की की जाली उखड़ी हुई थी। चारों सरिये भी मुड़ी हुई थीं। उन्होंने अपने बेटे शशांक अग्रवाल को जगाया। उनके स्टोर रूम की अलमारी से दो सौ ग्राम सोने की ज्वैलरी, एक लाख 75 हजार रुपये चोरी हो चुके थे। सूचना पर पहुंची पुलिस छानबीन कर रही थी कि इतने में पड़ोस की कोठी में रहने वाले उमानाथ के छोटे भाई हेमंत अग्रवाल ने भी पुलिस को घर में चोरों के घुसने की सूचना दी। पुलिस ने उनके सीसीटीवी कैमरे चेक किए तो हेमंत अग्रवाल के घर में एक चोर टहलता हुआ दिखा। चोर उनके घर में रात 1:20 बजे घुसा और 2:20 बजे तक उनके घर में टहलता रहा। इसके बाद चोर उमानाथ अग्रवाल के घर की ओर चला गया। वहां से नकदी और ज्वैलरी समेट कर चोर फरार हो गया। कोतवाली पुलिस की सूचना पर पहुंची फील्ड यूनिट ने चोरों के पैरों के निशान जुटाए हैं।

मुकदमा हुआ दर्ज

वित्त मंत्री के रिश्तेदार के घर मे चोरी की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुँच कर जांच पड़ताल की। कोतवाली थाने के प्रभारी निरीक्षक गीतेश कपिल ने बताया कि चोरी का मुकदमा दर्ज किया गया है और मामले की पड़ताल शुरू कर दी गई है जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

बारादरी में भी हुई चोरी

श्यामगंज पुल के सामने साईं मंदिर के पास स्थित राजीव सहानी की सहानी फॉर्वडिंग एजेंसी से भी बीती रात एक इन्वर्टर और बैटरा चोरी हो गया। राजीव सहानी ने बताया कि दो माह पहले भी उनकी एजेंसी से इन्वर्टर और बैटरा चोरी हुआ था। जिसकी रिपोर्ट उन्होंने दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस चोर का कोई सुराग नहीं लगा सकी। यहीं वजह है कि चोरों के हौसलें बुलंद हैं।

Show More
अमित शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned