scriptबरेली में उपद्रव करने वाले तीन गैंग रजिस्टर्ड, 50 से ज्यादा दर्ज हैं आपराधिक मुकदमे, जाने कौन | Patrika News
बरेली

बरेली में उपद्रव करने वाले तीन गैंग रजिस्टर्ड, 50 से ज्यादा दर्ज हैं आपराधिक मुकदमे, जाने कौन

बरेली में लूटपाट, पशु तस्करी, गोकशी समेत आपराधिक वारदातों को अंजाम देने वाले तीन गैंग को एसएसपी ने रजिस्टर्ड कर दिया है। गैंग में 10 से ज्यादा बदमाश है। उनके खिलाफ 50 से ज्यादा आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। एसपी क्राइम मुकेश कुमार ने बताया कि आपराधिक गतिविधियों में लिप्त तीन गैंग को रजिस्टर्ड किया गया है।

बरेलीJul 10, 2024 / 09:55 pm

Avanish Pandey

एसपी क्राइम |

बरेली। बरेली में लूटपाट, पशु तस्करी, गोकशी समेत आपराधिक वारदातों को अंजाम देने वाले तीन गैंग को एसएसपी ने रजिस्टर्ड कर दिया है। गैंग में 10 से ज्यादा बदमाश है। उनके खिलाफ 50 से ज्यादा आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। एसपी क्राइम मुकेश कुमार ने बताया कि आपराधिक गतिविधियों में लिप्त तीन गैंग को रजिस्टर्ड किया गया है। उनकी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।
लूटपाट गैंग में सरगना समेत चार आरोपी, 17 मुकदमें

बहेड़ी के मोहल्ला सिकोही नगर के अशफाक को गैंग लीडर बनाते हुए उनके गिरोह में तीन सदस्यों को शामिल किया गया है। अशफाक अपने तीन साथियों ग्राम भीमलौर रसूलपुर आंवला के रविन्द्र यादव, मोहल्ला केलाबाग किला के पंकज यादव और मोहल्ला कुसुम नगर कालोनी बारादरी निवासी गुरजीत सिंह के साथ मिलकर लूटपाट करता है। गैंग लीडर समेत सभी पर 17 आपराधिक मुकदमें हैं। गिरोह को लूटपाट गैंग की श्रेणी में डी-205 के रुप में रजिस्टर्ड किया गया।
मादक पदार्थों की तस्करी करने वाला गैंग भी रजिस्टर्ड

मीरगंज के ग्राम गुलडिया निवासी शान खां को गैंग लीडर बनाया गया है। जबकि, अब्दुल नवी और मोहल्ला को सदस्य बनाया गया है। गिरोह पर 10 आपराधिक मुकदमें हैं। गिरोह मादक पदार्थों की तस्की करने को लेकर डी-206 के रुप में रजिस्टर्ड
किया गया है।
गोकशी, गिरोह के लोगों पर दर्ज है 23 आपराधिक मुकदमें

जिले भर में गोकशी करने वाले गिरोह को पंजीकृत किया गया है। गिरोह में कुल तीन आरोपी हैं। जिन पर 23 आपराधिक मुकदमें हैं। मीरगंज के मोहल्ला अफसरयान के रहने वाले शाहिद कुरैशी को गैंग लीडर बनाया गया है। जबकि, मोहल्ला सूफी टोला मीरगंज निवासी हसनैन कुरैशी और सरताज को सदस्य बनाया गया है। शाहिद कुरैशी दोनों साथियों के साथ मिलकर संगठित होकर आर्थिक लाभ के लिए गोवंशीय पुशओं का वध करते हैं। इस गिरोह की अपराधिक गतिविधियों पर प्रभावी नियंत्रण रखने के लिए जनपद स्तर पर गोकशी गैंग की श्रेणी में डी-207 के रुप में पंजीकृत किया गया है।

Hindi News/ Bareilly / बरेली में उपद्रव करने वाले तीन गैंग रजिस्टर्ड, 50 से ज्यादा दर्ज हैं आपराधिक मुकदमे, जाने कौन

ट्रेंडिंग वीडियो