पीएम नरेंद्र मोदी के समर्थन में तलाक पीड़ित महिलाओं ने निकाली रैली

suchita mishra

Publish: Dec, 07 2017 01:52:26 (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
पीएम नरेंद्र मोदी के समर्थन में तलाक पीड़ित महिलाओं ने निकाली रैली

तीन तलाक पर कानून का मसौदा तैयार करने के लिए पीएम मोदी का धन्यवाद अदा किया, साथ ही उन्हें गुजरात चुनाव में जिताने की अपील की।

बरेली। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद केंद्र सरकार ने तलाक के कानून का मसौदा तैयार किया है, जिसमें तलाक देने वाले शौहर को सजा का प्रावधान किया जा रहा है। केंद्र सरकार की इस पहल के पक्ष में गुरुवार को महिलाओं ने रैली निकाली और प्रधानमंत्री का धन्यवाद करते हुए गुजरात में भाजपा को जिताने की अपील की। रैली में तलाक पीड़ित महिलाओं के साथ ही अन्य महिलाएं भी शामिल हुईं।

मेरा हक फाउंडेशन ने निकाली रैली
तलाक पीड़ित महिलाओं के लिए मेरा हक संगठन चलाने वाली केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फ़रहत नक़वी के नेतृत्व में तमाम महिलाएं रैली में शामिल हुईं। रैली चौकी चौराहे से शुरू हुई और कम्पनी गार्डन पर जाकर समाप्त हुई। रैली में महिलाओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थन में जमकर नारेबाजी की और गुजरात की महिलाओं से भाजपा को वोट देने की अपील की।

तलाक के मामलों में आएगी कमी
इस अवसर पर मेरा हक की अध्यक्ष फ़रहत नक़वी ने कहा कि तलाक के लिए कानून बन रहा है इसके लिए महिलाओं ने उनके प्रति आभार प्रकट करने के लिए ये रैली निकाली है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कानून बनने के बाद मर्दों के मन मे डर आएगा और तलाक के मामलों में कमी आएगी और प्रधानमंत्री जो कानून बना रहे हैं, उससे सब संतुष्ट हैं। इसके साथ ही उन्होंने गुजरात चुनाव में भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की और कहा कि हमारे प्रधानमंत्री को महिला सुरक्षा की चिंता है और वो इस दिशा में काम कर रहे है इस लिए गुजरात मे महिलाओं को भाजपा को वोट देना चाहिए। इस अवसर पर तीन तलाक की पीड़ित ईशा खान ने कहा कि दहेज की मांग को लेकर उसके शौहर ने उसे तलाक देकर साल भर पहले घर से निकाल दिया था अब इस पर कानून बन रहा है तो ऐसे मर्दों को सबक मिलेगा।

ये रही मौजूद
ईशा खान, रानी, नूरी, तरन्नुम एडवोकेट, फरहाना, नेहा रस्तोगी, रुखसार, नूरी, रेनू, रोहीना खातून, सीमा, यासमीन, यशब अंसारी, अनुराधा शर्मा, महविश अंसारी, नीलिमा पाठक, उषा, रानी प्रजापति,सरला समेत तमाम महिलाएं मौजूद रही।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned