विधवा पेंशन के लिए भटक रही महिला का आरोप, कार्यालय बंद होने के बाद विकास भवन बुलाता है सरकारी बाबू

suchita mishra

Publish: Feb, 15 2018 05:13:42 PM (IST)

Agra, Uttar Pradesh, India
विधवा पेंशन के लिए भटक रही महिला का आरोप, कार्यालय बंद होने के बाद विकास भवन बुलाता है सरकारी बाबू

दो साल पहले हुई थी महिला के पति की मौत, महिला का आरोप है कि लाचारी का फायदा उठाना चाहता है सरकारी बाबू।

बरेली। सरकार ने गरीब और जरूरतमंदों की सहायता के लिए वैसे तो तमाम स्कीम चला रखी हैं, लेकिन इन स्कीम का फायदा जरूरतमंदों को नहीं मिल पा रहा है क्योंकि विभाग के कर्मचारी ही इसमें पलीता लगाने में जुटे हैं। ताजा मामला बरेली में देखने को मिला। यहां एक विधवा को पेंशन के लिए इधर उधर दौड़ाया जा रहा है। महिला का आरोप है कि समाज कल्याण विभाग का एक बाबू उसकी लाचारी का फायदा उठाना चाहता है इसलिए जानबूझकर उसे परेशान कर रहा है। महिला ने मामले की शिकायत जिलाधिकारी से की है।

ये है मामला
मीरगंज तहसील की रहने वाली महिला के पति की मृत्यु दो अगस्त 2016 को हुई थी। महिला का कहना है कि उसने पारिवारिक लाभ योजना के लिए फार्म भरा था। लेखपाल ने उसके घर पर फार्म भरवाया था और उसका आवेदन मीरगंज तहसील से स्वीकृत होकर विकास भवन पहुंच गया, लेकिन अभी तक आवेदन स्वीकृत नही हुआ है।

शाम सात बजे के बाद विकास भवन बुलाया
महिला का आरोप है कि उसने इसके लिए विकास भवन में समाज कल्याण विभाग के बाबू को एक हजार रुपये भी दिए, फिर भी उसका आवेदन स्वीकार नही हुआ। इसके बाद वो समाज कल्याण अधिकारी से शिकायत करने पहुंची। महिला का कहना है कि जब वो अफसर के पास गई तो उन्होंने वापस उसी बाबू के पास भेज दिया। जिसके बाद बाबू ने महिला से कहा कि शाम को सात बजे के बाद विकास भवन आना तो तुम्हारा काम हो जाएगा।

शिकायत से मचा हड़कम्प
महिला द्वारा मामले की शिकायत के बाद अफसरों के बीच हड़कंप मच गया है। महिला की शिकायत पर फिलहाल जिलाधिकारी ने जांच के आदेश दिए है।

Must Read - बिजली को लेकर हुए विवाद में दबंगों ने गर्भवती महिला समेत परिवार को बेरहमी से पीटा

Don't Miss - चार दशक बाद नलकूप से निकला पानी, चमका किसान का चेहरा

 

 

1
Ad Block is Banned