चौहटन में 18 घंटे बिजली गुल, रातभर छत व गलियों में घूमते रहे लोग

चौहटन में 18 घंटे बिजली गुल, रातभर छत व गलियों में घूमते रहे लोग
18 hours chohatan power failure

Om Prakash Mali | Publish: Jul, 23 2019 06:56:59 PM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

चौहटन.मामूली आंधी storm और बूंदाबांदी Drizzling के साथ ही चौहटन chohatan में रविवार शाम छह बजे गुल हुई बिजली electricity सोमवार दोपहर 12 बजे 18 घंटे बाद बहाल हो सकी। ऐसे में पूरी रात अघोषित ब्लैक आउट Black out की स्थिति बनी रही। कस्बे में बूंदाबांदी शुरू होने से पहले ही बिजली काट दी, लेकिन मामूली बरसात के बाद भी यह 18 घंटे सुचारू नहीं हुई। डिस्कॉम Discom की लचर व्यवस्था के चलते कस्बेवासियों को भीषण गर्मी heat में पूरी रात के बाद सोमवार दोपहर तक बिजली का इंतजार waiting करना पड़ा।

चौहटन में 18 घंटे बिजली गुल, रातभर छत व गलियों में घूमते रहे लोग
- सांवा ग्रिड में फॉल्ट, बाड़मेर से आपूर्ति नहीं की चालू
चौहटन.मामूली आंधी और बूंदाबांदी के साथ ही चौहटन में रविवार शाम छह बजे गुल हुई बिजली सोमवार दोपहर 12 बजे 18 घंटे बाद बहाल हो सकी। ऐसे में पूरी रात अघोषित ब्लैक आउट की स्थिति बनी रही। कस्बे में बूंदाबांदी शुरू होने से पहले ही बिजली काट दी, लेकिन मामूली बरसात के बाद भी यह 18 घंटे सुचारू नहीं हुई। डिस्कॉम की लचर व्यवस्था के चलते कस्बेवासियों को भीषण गर्मी में पूरी रात के बाद सोमवार दोपहर तक बिजली का इंतजार करना पड़ा।
यों गुजारी रात
बिजली बंद होने के बाद गर्मी से परेशान लोग अपने घरों के बाहर टहलते रहे। वहीं चार घंटे बाद इन्वर्टर में संचित बिजली खत्म होने के बाद तो आपातकाल जैसे हालात हो गए। उमस व गर्मी से बेहाल लोगों ने अंधेरी छतों पर टहलते रात गुजारी।
नुकसान से बचने लगाए जनरेटर
बाजार में आइसक्रीम, दूध डेयरी बूथ संचालकों ने अपने फ्रीजर में रखे हजारों रुपयों के माल को बचाने के लिए जनरेटर का सहारा लेना पड़ा। लोगों ने चार घंटे तो इंतजार किया, लेकिन रात को 10-11 बजे के बाद किराए के जनरेटर लेने के लिए पहुंचे। उन्होंने एक-एक हजार रुपए किराए की दर पर जनरेटर लाकर अपने सामान की हिफाजत की। वहीं पांच से छह हजार रुपया ईंधन पर खर्च करना पड़ा।
यह है व्यवस्था
चौहटन को बाड़मेर व सांवा ग्रिड से बिजली आपूर्ति की व्यवस्था है, लेकिन सांवा में फॉल्ट आ जाने के कारण बिजली बंद हो गई। वहीं बाड़मेर से आपूर्ति चालू ही नहीं की गई। इससे कस्बेवासियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। बिजली आधारित कारोबार बन्द रहने से लोगों को काफी नुकसान उठाना पड़ा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned