कल्याणपुर. सुरपुरा के राउप्रावि में मंगलवार को राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम के तहत जन स्वास्थ्य अभियान्त्रिकी विभाग की ओर से जल जागरूकता कार्यक्रम आयोजित हुआ।

ढ़ाणी सांखला सरपंच पोकरराम पटेल ने जल जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। कहा कि जल है तो कल है। पानी की एक-एक बूंद का संचय करें। वर्षा के जल का संचय कर खेतों में अच्छी पैदावार लें। रथ प्रभारी महावीरसिंह शेखावत ने जल संरक्षण की जानकारी दी। प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम के विजेताओं को पुरस्कृत किया। कलाकारों ने नृत्य गीत व नाटक से ग्रामीणों को नशे से दूर रहने, प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने के लिए जागरूक किया गया। शैतानसिंह, भगवतकरण, उदयसिंह, गंगासिंह, रामाराम भील मौजूद थे। संचालन रतनसिंह ने किया।

इधर, पेयजल समस्या से जूझ रहे ग्रामीण, नहीं हो रही सुनवाई

जसोल.वरिया वरेचा, वरिया तगजी, वरिया भगजी सहित आसपास गांवों में पेयजल संकट की स्थिति है। ग्रामीणों को पानी खरीदना पड़ रहा है। गांव में ट्यूबवैल है, लेकिन चार वर्ष से पेयजल लाइन क्षतिग्रस्त है। इस पर इसका संचालन नहीं किया जा रहा है। उपयोग के अभाव में पेयजल हौदी व पशुखेळी भी क्षतिग्रस्त हो गई है। परेशान ग्रामीण जनप्रतिनिधियों, विभागीय अधिकारियों को बीसियों बार मौखिक व लिखित में समस्या से अवगत करवा चुके हैं, लेकिन किसी स्तर पर कोई सुनवाई नहीं की जा रही है। इससे ग्रामीणों में रोष है।
समस्या का नहीं हो रहा समाधान- पानी की समस्या को लेकर कई बार विभागीय अधिकारियों को अवगत करवाया, लेकिन समाधान नही हो पाया है। लोग महंगा पानी खरीदने को मजबूर है। - भाखराराम देवासी, ग्रामीण वरिया

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned