बाड़मेर क्लब सचिव गिरफ्तार, आरसीए कोषाध्यक्ष की मुश्किलें बढ़ी! आखिर ऐसा क्यों? जानिए पूरी खबर

आरसीए कोषाध्यक्ष है आरोपी:- सार्वजनिक सम्पति को नुकसान व धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज

By: भवानी सिंह

Published: 16 Jun 2018, 06:56 PM IST

बाड़मेर. खेल को प्रोत्साहित करने के लिए गठित बाड़मेर क्लब के सचिव ने मनमानी व अवैध तरीके से अपने चेहतों को फायदे पहुंचाने, धोखाधड़ी व सार्वजनिक सम्पति को नुकसान पहुंचाने का मामला कोतवाली थाने में दर्ज हुआ। मामले में सचिव सहित चार के खिलाफ आरोप लगाए गए हैं। पुलिस ने मामले में क्लब सचिव को गिरफ्तार कर लिया है। मामले में नवनियुक्त आरसीए कोषाध्यक्ष को आरोपी बनाया गया है। ऐसे में उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।


बाड़मेर के नेहरू युवा केन्द्र समन्वयक ओमप्रकाश जोशी ने जिला कलक्टर के निर्देश पर कोतवाली थाने में मामला दर्ज करवाया कि बाड़मेर क्लब संस्था खेल को प्रोत्साहित करने के लिए बनाई गई हैं। क्लब में सचिव ने मनमानी करते हुए पद का अवैधानिक तरीके से उपयोग करते हुए सार्वजनिक सम्पति को नुकसान पहुंचाया। सचिव ने राजनीतिक पहुंच रखने वाले कांग्रेस नेता आजदसिंह को 22 मई 2014 को जरिए लीज सरकारी भवन का आवंटन कर दिया। जिसमें सचिव ने नियमों को ताक में रखकर कम किराए में आवंटित किया। इससे सार्वजनिक सम्पति को नुकसान पहुंचा। पुलिस ने सचिव राजूसिंह, आरसीए कोषाध्यक्ष आजादसिंह राठौड़, तत्कालीन उप रजिस्ट्रार सहित क्लब के अन्य सदस्यों के खिलाफ धोखाधड़ी व सार्वजनिक सम्पति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज कर जांच शुरू की। पुलिस ने मामले में मुख्य आरोपी सचिव राजूसिंह को गिरफ्तार किया है। पूछताछ के बाद न्यायालय में पेश किया गया। पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।

 

कई बार हुई शिकायतें
जानकारी अनुसार बाड़मेर क्लब संस्था की ओर से हुए सरकारी भवन आवंटन के मामले में कई बार जिला कलक्टर व उच्च स्तर पर क्लब सदस्यों की ओर से शिकायतें दर्ज करवाई गई। लेकिन राजनीतिक पहुंच के चलते यह मामला दबता रहा। आखिरकार करीब तीन साल बाद मामला दर्ज हुआ।


कोषाध्यक्ष बनने के बाद मामला गरमाया
कांग्रेस युवा नेता आजादसिंह के आरसीए कोषाध्यक्ष बनने के बाद यह मामला काफी गरमाया हुआ है। कोषाध्यक्ष बनने के बाद बाड़मेर पहुंचने पर स्वागत समारोह के दौरान क्लब परिसर में लगाए टेंट को प्रशासन की ओर से हटवा दिया गया था। इसके बाद जिला कलक्टर ने मामला दर्ज करवाने के निर्देश दिए थे।

भवानी सिंह
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned