कोरोना: बाड़मेर जिले में जुलाई में संक्रमित मिले 1074, अगस्त में 1085

-दोनों महीने में मौतों का आंकड़ा 12-11
-जुलाई-अगस्त महीनों में लगा था 7-7 दिन का लॉकडाउन

By: Mahendra Trivedi

Published: 02 Sep 2020, 08:04 PM IST

बाड़मेर. बाड़मेर जिले में कोरोना पॉजिटिव की संख्या जुलाई और अगस्त में लगभग बराबर ही रही है। जून तक केवल 358 लोग संक्रमित थे, तो जुलाई में 1074 पॉजिटिव सामने आए। वहीं अगस्त में भी जुलाई के बराबर ही आंकड़ा समाने आया। इस महीने 1085 लोग संक्रमण की चपेट में आए। इन दोनों महीनों में खास बात यह रही कि जुलाई और अगस्त में स्थानीय प्रशासन ने 7-7 दिन का शहर में लॉकडाउन भी लगाया था। लेकिन संक्रमण फिर भी बढ़ गया।
जून तक बाड़मेर जिले मं कोरोना काफी रहा। केवल 358 संक्रमित ही तब तक मिले थे। इसके बाद जुलाई महीना पिछले तीन महीनों पर कुछ ज्यादा ही भारी पड़ गया। जुलाई में हर दूसरे दिन एक व्यक्ति कोरोना का शिकार हो गया और पॉजिटिव की संख्या बेतहाशा बढ़ी। इसी तरह अगस्त में भी कोरोना के मामले लगातार बढ़ते गए और कुल पॉजिटिव की संख्या बढ़कर 2500 तक पहुंच गई।
जुलाई-अगस्त मौतों का आंकड़ा 12-11
जिले में जुलाई और अगस्त में मौतों का आंकड़ा भी लगभग बराबर रूप से बढ़ा। जुलाई में 12 लोगों को कोरोना लील गया तो अगस्त में भी 11 की जान संक्रमण के कारण चली गई। अगस्त बीतते तक कुल 24 लोग कोरोना के शिकार हो गए। इससे पहले जून में एक मौत हुई थी।
कहीं नहीं दिखती सोशल डिस्टेसिंग
सरकारी और स्थानीय प्रशासन की गाइड लाइन और निर्देश बाजार में कम ही नजर आते हैं। दुकानदार खुद भी मुहं पर मास्क लगाकर नहीं बैठते हैं। वहीं ग्राहक भी ऐसे ही सामान लेने जाते हैं। जबकि स्पष्ट रूप से निर्देश है कि सोशल डिस्टेसिंग के साथ मास्क होने पर ही उसे सामान दिया जाए।
यहां दिखी मास्क को लेकर सतर्कता
शहर के मॉल में मास्क को लेकर सतर्कता नजर आई। माल्स में आने वाले लोगों को अनिवार्य रूप से मुहं पर मास्क लगाने के बाद ही भीतर प्रवेश दिया जा रहा है। इसके लिए मुख्य गेट पर ही मॉल के कार्मिक बिना मास्क वालों को रोक लेते हैं।
अगस्त में भी प्रदेश के 10 संक्रमित जिलों में बाड़मेर
प्रदेश के सर्वाधिक संक्रमित 10 टॉप जिलों की सूची में बाड़मेर जुलाई के आखिरी सप्ताह में शामिल हुआ। इसके बाद लगातार अगस्त महीने में संक्रमण बढऩे के कारण इस सूची में बाड़मेर रहा।
अगस्त में औसतन 35 मरीज प्रतिदिन
जुलाई की तरह अगस्त में भी कोरोना का विस्फोट देखा जाए तो औसतन प्रतिदिन 35 संक्रमितों का रहा है। इससे ही महामारी की भयावहता साफ दिखती है। अगस्त का शायद ही कोई दिन निकला जिस दिन कोरोना मरीज सामने नहीं आए।
सबसे बड़ा विस्फोट अगस्त में हुआ जेल में
बाड़मेर जेल में एक साथ 127 बंदियों के संक्रमित मिलने से जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। इतने बंदियों को एक साथ रखना और उपचार करना मुश्किल हो गया था। इसलिए जेल को कोविड वार्ड में बदलना पड़ा।
31 अगस्त तक हो गए 2500 पूरे
जिले में 31 अगस्त तक संक्रमितों की संख्या 2500 पहुंच गई। 8 अप्रेल से शुरू हुआ सिलसिला जून तक तक तो काफी नियंत्रित रहा। लेकिन जुलाई और अगस्त दो महीनों में ही सबसे अधिक संक्रमण फैला और ढाई हजार कुल संक्रमित हो गए।
बाड़मेर में संक्रमण कैसे बढ़ा
-8 अप्रेल को जिले में मिला पहला पॉजिटिव
-8 मई तक 4 पॉजिटिव
-8 जून को आंकड़ा 107 पर
-8 जुलाई आंकड़ा 566 पहुंचा
-8 अगस्त पॉजिटिव हो गए 1727

Mahendra Trivedi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned