कोरोना: 83 डिस्चार्ज, 302 नए केस, 7 की थम गई जिदंगी

-बाड़मेर में मौतों का बढ़ता जा रहा सिलसिला
-कोरोना संक्रमण की नहीं थम रही रफ्तार
-नमूना संग्रहण केंद्रों पर लम्बी होती कतारें

By: Mahendra Trivedi

Published: 02 May 2021, 10:08 PM IST

बाड़मेर. संकमण की रोकथाम के उपायों के बावजूद जिले में संकमण के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं। जिले में रविवार को 302 नए केस मिले हैं, वहीं 7 लोगों की संक्रमण ने जान ले ली। इसमें राहत की बात यह रही कि 83 लोग स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज हो गए।
बाड़मेर जिले में एक्टिव केस बढ़कर रविवार को 2770 हो गए। यह चिंताजनक स्थिति है। इनमें से 2211 होम आइसोलेशन है। वहीं अब बढ़ती जा रही मौतें हालात के बेकाबू होना बता रही है। पिछले कई दिनों से रोजाना 200-300 के बीच में आते जा रहे संक्रमितों के कारण अस्पतालों में जगह नहीं बची है।
गंभीर स्थिति में आने वाले ज्यादा
जिले में गंभीर स्थिति में आने वाले संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। इसमें एचआरसीटी जांच वाले ज्यादा है, जबकि आरटीपीसीआर टेस्ट पॉजिटिव की कमी है। विशेषज्ञों के अनुसार एचआरसीटी जांच में अधिकांश संक्रमितों के फेंफड़े काफी डेमेज मिल रहे हैं। इसलिए उन्हें सांस लेने मे तकलीफ होती जा रही है। वहीं उनकी जिंदगी बचाना काफी चुनौतीपूर्ण हो जाता है।
जिले में कुल 83 मरीजों को मिली छुट्टी
संक्रमण के बीच राहत इस बात की है कि रविवार को कुल 83 मरीजों को छ़ुट्टी मिल गई। इसमें होम आइसोलेशन के साथ अस्पताल में कई दिनों से भर्ती मरीज भी शामिल है। एक साथ बड़ी संख्या में मरीजों के स्वस्थ होना सुखद है, लेकिन संक्रमण की बढ़ती रफ्तार संकट खड़ा कर रही है।
नमूनों के लिए लंबी होती लाइनें
कोविड संदिग्ध मरीजों की लाइनें लंबी होती जा रही है। जिला अस्पताल में दो काउंटर पर नमूने लिए जा रहे हैं। यहां पर लंबी कतारें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। अस्पताल का निर्धारित समय खत्म हो जाने के बावजूद भी यहां पर लाइनों के कारण कार्मिक नमूने लेते में जुटे रहते हैं।

Mahendra Trivedi Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned